प्रदेश सरकार कर रही, वित्त विहीन शिक्षको के साथ सौतेला व्यवहार : रमेश सिंह

जौनपुर। कोरोना संकट के दोनों लहरों के दौरान जहाँ सरकार अपनी असफलताओं को मानने के लिए तैयार नहीं है वहीं दूसरी ओर सरकारी मदद बांटने में भी सरकार भेदभाव कर रही है।प्रधानमंत्री के मूल मंत्र "आपदा में अवसर "तलाशते हुए प्रदेश सरकार द्वारा इस भीषण महामारी के बीच भी अपना वोट बैंक बढाने की गरज से ही आर्थिक इमदाद दी जा रही है।

उक्त बातें कहते हुए उ0प्र 0 मा0शि0 संघ के कार्यकारी अध्यक्ष रमेश सिंह ने सरकार पर वित्त विहीन शिक्षक साथियों के साथ सौतेला व्यवहार करने का सीधा आरोप लगाया है। रमेश सिंह ने अवगत कराया है कि प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण के दौरान समाज के सभी वर्गों जैसे-व्यापारी, किसान,मजदूर,पटरी पर ठेला लगाने वाले,सहित कमजोर तबके के लोगों को कुछ न कुछ आर्थिक मदद उपलब्ध कराया है जो प्रशंसनीय है।लेकिन वहीं दूसरी ओर इस महामारी के बीच सरकार का शिक्षक/कर्मचारी विरोधी चेहरा भी उजागर हुआ है क्योंकि सरकार द्वारा प्रदेश के लाखों वित्त विहीन शिक्षक साथियों को न तो पहली लहर में ही और न दूसरी लहर में भी कोई आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई गयी है जिसके कारण पहले से ही भुखमरी के कगार पर पहुंच चुके वित्तविहीन शिक्षक साथियों के परिजन अब फाकाकसी के लिए मजबूर हैं। लगातार विद्यालय बंद चलने के कारण न तो बच्चे विद्यालय आ रहे हैं और न ही उनके परिजन शुल्क ही जमा कर पा रहें हैं जिससे विद्यालय प्रबन्धन द्वारा अपने शिक्षकों को मानदेय देने में असमर्थता व्यक्त की जा रही है।रमेश सिंह ने आज मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर यह मांग किया है कि सरकार द्वारा इन लाखों वित्त विहीन शिक्षको को अविलंब कुछ ना कुछ आर्थिक सहायता अवश्य उपलब्ध कराई जाय जिससे कि उनके घरों के चूल्हे जलते रहें।

Related

JAUNPUR 2738025475488703099

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item