कृष्णचंद्र यादव की मौत शराब में जहर मिलाकर पिलाने से हुई थी

 जौनपुर। खुटहन थाना क्षेत्र के कपसियां गांव निवासी कृष्णचंद्र यादव की मौत शराब में जहर मिलाकर पिलाने से हुई थी। करीब 15 महीने पूर्व संदिग्ध हालत में हुई मौत का सच विसरा की जांच रिपोर्ट से सामने आया है। इसी आधार पर थाना पुलिस गांव निवासी कानूनगो संघ के जिलाध्यक्ष समेत सात के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज कर आरोपितों की तलाश कर रही है। 

कृष्णचंद्र की पत्नी ने पुलिस महानिदेशक और मानवाधिकार आयोग से शिकायत कर न्याय की गुहार लगाई थी। पिछले सप्ताह वाराणसी जोन के पुलिस महानिरीक्षक एसके भगत व मानवाधिकार आयोग के अधिकारियों ने गांव में आकर मामले की गहन छानबीन भी की थी। कृष्णचंद्र यादव 14 अप्रैल 2020 की शाम गांव के पुट्टी लाल यादव के यहां गेहूं की मड़ाई करने गया था। कुछ देर बाद नशे की हालत में उसे उसके घर पहुंचा दिया। देर रात उसने दम तोड़ दिया। पत्नी कमलेशा देवी ने उसी दिन आरोप लगाया था कि कृष्णचंद्र की हत्या साजिश के तहत शराब में जहर देकर की गई है। शव का पोस्टमार्टम करने वाले मौत के कारण को लेकर डाक्टर स्पष्ट नतीजे पर नहीं पहुंच सके। विसरा जांच की आई रिपोर्ट में एथाइल अल्कोहल विष की पुष्टि हुई। 
पुलिस ने बुधवार को गांव निवासी कानूनगो संघ के जिलाध्यक्ष पुट्टी लाल यादव, मेवालाल, राहुल, पप्पू, सत्य प्रकाश, मानसिंह व विजय के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया। थानाध्यक्ष बिजेंद्र सिंह ने कहा कि फरार आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए गठित पुलिस टीमें जल्द ही गिरफ्तार करेंगी।

Related

news 7832569178301827212

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item