समय से ऑक्सीजन प्लांट न स्थापित होने से कई मरीजों को जान से हाथ धोना पड़ा : अरुण दुबे

जौनपुर। बदलापुर विधानसभा की, जहां समाजवादी पार्टी के नेता अरुण दुबे ने कहा देश और प्रदेश के साथ-साथ बदलापुर में कोरोना वायरस और ऑक्सीजन की कमी के चलते रोज होती दर्दनाक मौतों के दौरान ऑक्सीजन प्लांट लगाने के बड़े-बड़े सरकारी वादे किए गए थे. उन्हीं वादों को जस का तस विधायक रमेश चंद्र मिश्रा ने अपने क्षेत्र बदलापुर की जनता के समक्ष रख दिया कि क्षेत्र में उनके द्वारा एक ऑक्सीजन प्लांट की व्यवस्था की जाएगी. 

 भूमिपूजन के बाद भी मामला बिलकुल ठप पड़ा था ऑक्सीजन प्लांट लगाने का वादा विधायक द्वारा किया गया था. एक माह बाद भी ऑक्सीजन प्लांट की कोई खोज-खबर नहीं है।  जनहित का यह कार्य समय से पूर्ण न होने के चलते कई लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ गया. इसके बाद प्रमुख समाचार पत्रों ने बदलापुर सहित जिले में सत्तापक्ष के प्रतिनिधियों के गैर जिम्मेदाराना रवैये को खुलकर जनता के सामने रखा.
 दो महीने तक टालमटोल और लापरवाही के बाद बढ़ते दबाव के चलते ऑक्सीजन प्लांट आया तो मगर पाइप आदि कोई काम अब तक शुरू नहीं हुआ है।
 गौरतलब है कि अरुण दुबे न सिर्फ सक्रिय विपक्ष की भूमिका में बल्कि इस भीषण महामारी के दौर में जनसेवा का भी अद्वितीय उदाहरण प्रस्तुत कर रहे हैं. अपने ‘अरुण दुबे ग्रामीण रक्षा संकल्प’ के माध्यम से हजारों ऑक्सीमीटर, थर्मल स्कैनर को गांव-गांव में न सिर्फ पहुंचाकर बल्कि ग्राम पंचायत के स्तर पर एक व्यवस्थित टीम बनाकर उन पूरे जनपद जौनपुर में बिना भेद भाव हर किसी तक पहुंच रहे हैं। कई पीड़ित असहाय परिवारों की भी लाखों की निजी व्यवस्था से मदद की और सैकड़ों लोगों को इलाज में सहायता दिलायी। मल्लुपुर गौशाला में मर रहीं दर्जनों गौमाता की खबर सुनकर तुरंत मदद पहुंचाई जहां विधायक ने समय न होने का हवाला देकर हाथ खींच लिए थे. 

Related

politics 2246314865782683349

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item