भूख से तड़फते बच्चो के साथ आत्महत्या करने जा रही थी महिला, राहगीरो ने बचायी जान

 

जौनपुर। भूख से तड़फते बच्चो के साथ आत्महत्या करने शाही पुल पर पहुंची महिला को राहगीरो ने बचा लिया। महिला के अनुसार उसका पति शराबी है वह पूरे दिन केवल शराब के नशे में धुत रहता है, पैसा न होने के कारण बच्चे कई दिनों से भूख से तड़फ रहे थे। 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के छबीलेपुर हरबसपुर गांव निवासी महिला निशा देवी अपने पति रिंकू  की प्रताड़ना से त्रस्त होकर अपने 12 वर्षीय पुत्र सूरत, अनूप 8 वर्ष व पुत्री शिवांगी को लेकर शाही पुल पर पहुंची और जैसे ही वह छलांग लगाने का प्रयास करने लगी उसी समय पुल से गुजर रहे राहगीरों ने उसे पकड़ लिया। मौके पर  राहगीरों की अच्छी खासी भीड़ एकत्रित हो गई। 
महिला ने बताया कि उसका पति शराबी की किस्म का है वह प्रतिदिन  शराब पीकर  घर में मारपीट  करता है जिससे  से उबकर वहां अपने मासूम बच्चों सहित आत्महत्या करना चाहती थी। 
कुछ ही देर में कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंचकर महिला और उसके बच्चों को कोतवाली ले गई। कोतवाली में   भूख से तड़प रहे बच्चो को मुंशी ने अपने जेब से पैसा से  भोजन कराया। 
कोतवाली में तैनात मुंशी ने जहां मानवता की  पूरा फर्ज अदा किया वही सराय ख्वाजा पुलिस को इसके पति व उसके परिजनों को बुलाया समाचार लिखे जाने तक आत्महत्या करने वाली महिला के ससुराल के लोग कोतवाली पहुंच नहीं सके थे। महिला ने यह भी बताया कि आज तक उसका राशन कार्ड भी नहीं बना है। 

Related

business 1389427551366719832

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item