विचाराधीन बंदी की जेल में दर्द से तड़पकर मौत

 


जौनपुर। जिला कारागार में हत्या के मामले में कुछ समय से निरुद्ध विचाराधीन बंदी की बुधवार की रात दर्द से तड़पकर मौत हो गई। जेल प्रशासन के अनुसार उसकी हालत खराब होने की जानकारी होने के बाद जिला अस्पताल ले जाया गया जहां इलाज के दौरान उसे मृत घोषित कर दिया गया। वहीं बंदी की मौत होने के बाद पुलिस शव को कब्जे में लेकर आवश्यक विधिक कार्रवाई में जुटी है, वहीं हादसे के बारे में परिजनों को अवगत करा दिया गया है। 
 पंवारा थाना क्षेत्र के चेतरिया गांव निवासी मुकेश वनवासी (37) पुत्र सहदेव 7 जून 2018 से हत्या के एक मामले में जेल में बंद था। बुधवार की रात करीब साढ़े नौ बजे मरणासन्न हालत में जेल के वाहन से बंदी रक्षक उसे जिला अस्पताल पहुंचाए। जहां डाक्टरों ने उसे देखते ही मृत घोषित कर दिया। इसके बाद बंदी के बारे में परिजनों को सूचना देने के साथ ही विधिक कार्रवाई भी शुरू कर दी गई। इस बाबत पुलिस को भी सूचना दी गई है। वहीं सूचना मिलने के बाद परिजन भी मौके पर पहुंच गए। परिजनों के शिकायत के बाद पुलिस मामले में विधिक कार्रवाई करने की तैयारी में है।
 कारागार अधीक्षक एसके पांडेय ने बताया कि मुकेश वनवासी पहले से ही हार्निया व हाइड्रोसील का मरीज था। तबीयत खराब होने पर तीन दिन से जेल के अस्पताल में भर्ती कर उपचार चल रहा था। शाम साढ़े सात बजे जेल बंद होने तक उसकी हालत सामान्य थी। करीब नौ बजे वह दर्द से छटपटाने लगा। इसकी जानकारी होते ही उसे तत्काल बेहतर उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा था। काफी प्रयास के बाद भी बंदी को बचाया नहीं जा सका। वहीं बंदी की मौत की सूचना उसके स्वजन को दे दी गई है। इसके साथ ही मैनुअल के अनुसार इस मामले में विधिक कार्रवाई की जा रही है।

Related

JAUNPUR 6890086026762117760

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item