डीएम के पिता को श्रध्दाजंलि देने के लिए उमड़े अधिकारी, कर्मचारी

जौनपुर। जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा व राज्यकर्मचारी संयुक्त परिषद कुशीनगर के पूर्व अध्यक्ष मोहन प्रसाद वर्मा का आज लम्बी विमारी के चलते वाराणसी के एक अस्पताल में निधन हो गया। डीएम के पिता के मौत की खबर मिलते ही अधिकारियों, कर्मचारियों अधिवक्ताओं, शिक्षको समेत आम जनमानस में शोक की लहर दौड़ पड़ी। भारी संख्या में लोग डीएम के बंगले पर पहुंचकर मोहन प्रसाद को श्रध्दाजंलि दिया। करीब दो बजे डीएम पूरे परिवार के साथ पिता के शव को लेकर अपने गृह जनपद कुशीनगर रवाना हो गये। अंतिम संस्कार रविवार को दिन में किया जायेगा। 

मूल रूप से कुशीनगर जिले के पडरौना कस्बे के निवासी मोहन प्रसाद वर्मा कलेक्टेªट के कर्मचारी थे। वे अपने कार्यकाल में लम्बे समय तक राज्य कर्मचारी संयुक्त परिसद के अध्यक्ष भी रहे। उनके बड़े पुत्र  अमित कुमार वर्मा है वे पडरौना में सोनी चांदी के व्यापारी है। दूसरे नम्बर के पुत्र मनीष कुमार वर्मा आइएएस अधिकारी है वर्तमान में जिले के डीएम है।  तीसरे पुत्र आशुतोष  कुमार वर्मा "मोनू "आईटी इंजीनियर है वे मौजूदा समय में एक निजी कम्पनी में कार्य कर रहे है। 

Related

news 8441544319025069926

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item