छात्रों में नेतृत्व कौशल का विकास करता है बाल संसद

जौनपुर।  बच्चों में नैतिक मूल्य, कर्तव्यनिष्ठा, नेतृत्व क्षमता, सहभागिता, एवं मानवीय गुणों का विकास करने के उद्देश्य से परिषदीय विद्यालयों में बाल संसद नामक अभिनव पहल की गई है। बाल संसद के अंतर्गत विद्यालय के छात्रों द्वारा चुनाव आयोजित किया जाता है। जिसमें विद्यालय के छात्र स्वयं से विद्यालय विकास की जिम्मेदारी लेने के लिए आगे आते हैं। 

सिकरारा के प्राथमिक विद्यालय लखेसर में 7 पदों के लिए चुनाव कराए गए जिसमें प्रधानमंत्री, शिक्षा मंत्री, सांस्कृतिक मंत्री, स्वास्थ्य एवं स्वच्छता मंत्री, पर्यावरण मंत्री, क्रीड़ा मंत्री, पुस्तकालय मंत्री पदों के लिए चौदह प्रत्यासी खड़े थे। छात्रों को चुनाव चिन्ह विद्यालय के प्रधानाध्यापक रमेश चन्द्र यादव जी द्वारा आवंटित किया गया। छात्रों ने कक्षावार जाकर अपना प्रचार प्रसार किया और अपने भावी योजनाओं के बारे में अन्य छात्रों को अवगत कराया।
 विद्यालय के शिक्षक इस अवसर पर रमेश यादव पीठासीन, मुकेश दुबे, बबिता यादव व कुसुम मिश्र प्रथम द्वितीय व तृतीय मतदान अधिकारी की भूमिका का निर्वहन कर रहे थे। लोकतंत्र की ताकत और इसमें विश्वास जागृत करने से बच्चों में मिलजुलकर कार्य करने के कौशल का विकास होता है। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ गोरखनाथ पटेल द्वारा शिक्षकों से आह्वाहन किया गया है कि वे इसे अपने स्कूलों में क्रियान्वयन करें। सिकरारा के खंड शिक्षा अधिकारी राजीव कुमार यादव ने विद्यालय को आगे आकर कार्य करने के लिए बधाई दी। शिक्षक शिवम सिंह ने अपने विद्यालय के बाल संसद की अवधारणा को तैयार किया और उसे मूर्तरूप दिया है। मतगणना 24 सितम्बर को ग्राम प्रधान लखेसर श्रीमती निशा तिवारी जी, एस. एम.सी. अध्यक्ष व अन्य अभिभावकों के समक्ष किया जाएगा। 

Related

news 779599740689782313

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item