गंभीर मामलों की विवेचना में ढिलाई बरतने वाले विवेचकों पर होगी कार्रवाई : आईजी

जौनपुर  । उत्तर प्रदेश में वाराणसी परिक्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) एस के भगत ने गंभीर मामलों की विवेचना का विधि संगत निस्तारण सुनिश्चित करने के संबंध में दिशा निर्देश दिए और कहा कि गंभीर प्रवृति के प्रकरणो में जांच में देरी करने वाले विवेचकों पर कार्रवाई की जाय।

                         पुलिस महानिरीक्षक एस के भगत शनिवार को जौनपुर जिले के जलालपुर थाने में आयोजित समाधान दिवस पर जन शिकायतो की सुनवाई करने के बाद हमारे प्रतिनिधि से वार्ता कर रहे थे । उन्होंने कहा कि सभी पुलिस अधीक्षक विवेचना को गुणवत्तापूर्ण, समयबद्ध, विधिसंगत निस्तारण कराए ।उन्होंने कहा कि पुलिस अधीक्षक जिले में यह सुनिश्चित करें कि विवेचको द्वारा विवेचनाओं का निस्तारण निर्धारित समयावधि में हों, अनावश्यक रूप से देरी न की जाये। जिले के अधिकारी थानों के भ्रमण के दौरान लम्बित विवेचनाओं की समीक्षा करें और थाने के कार्यालय भवन, बैरक तथा अवासीय भवनो आदि की साफ सफाई एवं अभिलेखों का रख रखाव आदि का निरीक्षण करें। उसके बाद थाने पर नियुक्त कर्मचारियों का सम्मेलन कर उनकी बीट बुक का भी निरीक्षण करें।
 आईजी श्री भगत ने कहा कि सभी  पुलिस अधीक्षक के साथ अपर पुलिस अधीक्षक, क्षेत्राधिकारी नियमित अन्तराल पर थानों की लम्बित विवेचनाओं की समीक्षा करें एवं लम्बित विवेचनाओं की गुणवत्तापूर्ण समयबद्ध निस्तारण कराये जाने के लिए प्रभावी प्रयास किया जाय। उन्होंने कहा कि गम्भीर प्रकृति के अपराधों के विवेचनाओं की समीक्षा वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा गहराई से की जाये तथा अनावश्यक रूप से लम्बित विवेचनाओं के सम्बन्ध में दोषी विवेचकों के विरूद्ध कार्रवाई सुनिश्चित की जाये।

Related

news 3412883692385423404

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item