लाइन मैन के मौत मामले में बिजली विभाग तीन अफसरों पर मुकदमा दर्ज

 जौनपुर। सोमवार की देरशाम  सिकरारा थाना क्षेत्र के  सिउरा गांव मेंट्रांसफार्मर की मरम्मत के दौरान अचानक बिजली आपूर्ति बहाल कर दिए जाने से प्राइवेट लाइनमैन की झुलसने से मौत हो गई। इस मामले में बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता, एसडीओ, जेई व एक अज्ञात के विरुद्ध गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज हुआ है। मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस खंभे पर लटके शव को सात घंटे बाद पोस्टमार्टम के लिए कब्जे में ले सकी। इस दौरान ग्रामीणों के रास्ता जाम करने के कारण जौनपुर-रायबरेली राष्ट्रीय राजमार्ग पर दो घंटे आवागमन ठप रहा।  

उक्त गांव में लगा 16 केवीए का ट्रांसफार्मर खराब हो गया था। मेंहदी गांव निवासी 40 वर्षीय प्राइवेट कर्मी नंदलाल यादव सिकरारा उपकेंद्र से शटडाउन लेकर पोल पर चढ़कर ट्रांसफार्मर ठीक कर रहा था। इसी बीच बिजली आपूर्ति बहाल कर दिए जाने से नंदलाल की करेंट की चपेट में आने से मौत हो गई। बुरी तरह से झुलसा शव दोनों खंभों के बीच लटक गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए उपकेंद्र के सामने रास्ता जाम कर दिया। जानकारी होने पर उपजिलाधिकारी सदर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट हिमांशु नागपाल, मछलीशहर के एसडीएम राजेश वर्मा, सीओ अतर सिंह भारी पुलिस बल के साथ आ गए। अधिकारियों ने सपा जिलाध्यक्ष लाल बहादुर यादव व पूर्व जिला पंचायत सदस्य साहब लाल यादव से वार्ता के बाद मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया। तब ग्रामीणों ने जाम समाप्त किया। मृत नंदलाल के पुत्र राहुल की तहरीर पर बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता, एसडीओ, अवर अभियंता व एक अज्ञात के विरुद्ध गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर किया गया। रात एक बजे एफआइआर की प्रति मिलने के बाद ग्रामीणों ने शव को खंभे से उतारने दिया।

Related

news 2576793492983119791

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item