कागजो पर विकास कार्य दिखाकर जिम्मेदार डकार गए तीन लाख रूपये

 जौनपुर। खुटहन थाना क्षेत्र के  गोबरहां गांव में मनरेगा से कागजों पर कराए गए समतलीकरण, मेड़बंदी और बकरी शेड के निर्माण के आरोपों की जांच में ढाई लाख रुपये से अधिक के गोलमाल का मामला प्रकाश में आया है। उपायुक्त मनरेगा भूपेंद्र कुमार सिंह की ओर से स्थलीय जांच में काम न होना पाया गया, जबकि कागज पर सात किसानों के खेत की मेड़बंदी और एक बकरी शेड बना दिखाया गया है। वित्तीय अनियमितता सामने आने के बाद प्रधान, जेई व सचिव से वसूली का निर्देश दिया गया है।  

 गांव की आरती देवी और सौरभ गिरी ने अपर आयुक्त मनरेगा लखनऊ को शिकायती पत्र देकर आरोप लगाया था कि ग्राम प्रधान के द्वारा फर्जी तरीके से गांव के सात किसानों के खेत का समतलीकरण व मेड़बंदी तथा एक बकरी शेड का बगैर काम कराए लाखों रुपये सरकारी धन निकाल लिया गया है। आरोपों की जांच के लिए उपायुक्त मनरेगा को नामित किया गया। स्थलीय जांच में आरोप सही पाया गया। उपायुक्त ने अपनी जांच आख्या अपर आयुक्त को भेज दिया है। उन्होंने बताया कि जांच में दो लाख अट्ठासी हजार आठ सौ छियासी रुपये सरकारी धन का दुरुपयोग पाया गया, जिसकी वसूली ग्राम प्रधान, सचिव और जेई से की जाएगी।

Related

JAUNPUR 4232169031569926144

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item