ग्रामीणों ने साढ़े पांच घंटे दिया धरना, दो लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा समाप्त हुआ प्रदर्शन

जौनपुर। रविवार को लाइन बाजार थाना क्षेत्र के सीहीपुर में मां काली मंदिर के सामने सड़क दुर्घटना में मृत व्यक्ति व उसकी घायल भाभी घायल हो गई थी। परिजनों को मुआवजा दिए जाने की मांग को लेकर ग्रामीण सोमवार को वाराणसी-लखनऊ राजमार्ग का निर्माण कर रही गायत्री प्रोजेक्ट कंपनी के मुख्य द्वार पर धरने पर बैठ गए। साढ़े पांच घंटे बाद धरना तब खत्म हुआ जब कंपनी के जीएम ने दो लाख रुपये देने की घोषणा की। रविवार को दोपहर कंपनी के ट्रक की चपेट में आने से बक्शा थाना क्षेत्र के कुल्हनामऊ गांव निवासी 55 वर्षीय दिलीप कुमार की मौत हो गई थी। दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल उनकी भाभी मलावती देवी का वाराणसी में उपचार चल रहा है। सोमवार की सुबह दस बजे भाजपा नेता भूपाल सिंह उर्फ भोले के नेतृत्व में कुल्हनामऊ गांव के सैकड़ों लोग सीहीपुर स्थित कार्यदाई संस्था के कार्यालय के सामने धरने पर बैठकर मुआवजे की मांग करने लगे। कंपनी के अधिकारियों से बात कराने को कहा कि तो कर्मचारियों ने इन्कार कर दिया। इससे आक्रोशित ग्रामीण कंपनी के मुख्य द्वार पर धरना पर बैठकर नारेबाजी करने लगे। खबर लगने पर शांति व्यवस्था बनाए रखने को लाइन बाजार थाने की फोर्स पहुंच गई। पुलिस ने समझाने का प्रयास किया, लेकिन ग्रामीण नहीं माने। करीब पांच घंटे बाद सीओ सिटी जितेंद्र कुमार दुबे ने कंपनी के महाप्रबंधक नागार्जुन राव से बातचीत की। उन्होंने पीड़ित परिवार को दो लाख रुपये सहायता देने की बात कही। तब सीओ सिटी के समझाने पर धरना समाप्त कर दिया गया। धरना देने वालों में प्रमोद शर्मा, रितेश पांडेय, सावंत सिंह, राजेश यादव, मंटू वर्मा, गोपाल सिंह, साहिल आदि प्रमुख थे।

Related

news 4644193399302564053

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item