कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए 19 प्राइवेट अस्पताल किए गए अधिग्रहित

जौनपुर। कोरोना-19 का नया वैरिएंट (ओमीक्रोन) को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने दावा किया कि वह पूरी तरह से अलर्ट है। आपात स्थिति से निबटने के लिए जिला अस्पताल, सात सीएचसी, ट्रामा सेन्टर के साथ साथ 19 जिले के प्राइवेट अस्पताल अधिग्रहित किए गए हैं। इसमें लगभग सवा चार सौ बेड हैं। बच्चों को ध्यान में रखते हुए पीकू वार्ड में 20 वेंटिलेटर की भी व्यवस्था की गयी है। पहली बार की भयावह स्थिति को देख इस बार जिला प्रशासन ने आक्सीजन के लिए काफी काम किया। परिणाम रहा कि 12 आक्सीजन प्लांट तैयार है। जिससे मरीजों को आक्सीजन की सप्लाई दी भी जा रही है और दी जा सकेगी। जिला अस्पताल व महिला अस्पताल में दो-दो आक्सीजन प्लांट लगे हैं। जिसमें दोनों जगह एक एक प्लांट से आक्सीजन की सप्लाई मरीजों के लिए हो रही है। कोविड के नोडल अधिकारी डा. संदीप सिंह ने बताया कि कोविड एल-2 (महिला अस्पताल) में 40 बेड का पीकू वार्ड बनाया गया है। इसमें 20 बेड पर वेंटिलेटर एवं 15 पर छोटे बच्चों के लिए वेंटिलेटर तैयार है। शेष 60 बड़े लोग जिनका कोविड से पीड़ित हैं तथा सात बेड प्रेगनेंट महिलाओं के लिए तैयार है। सभी पर सेंट्रल आक्सीजन सप्लाई दी गयी है। इसके अलावा 33 आक्सीजन कंसंटे्रटर व तीन एचएफएनसी हैं। इसके अलावा सतहरिया में 50 बेड, बदलापुर में 50 बेड, केराकत में 30, शाहगंज में 30, रेहटी में 30, मछलीशहर में 30, बरसठी में 30 व ट्रामा सेंटर में 30 बेड की व्यवस्था की गयी है। सभी अस्पतालों पर मार्कड्रिल हो रहा है।

Related

news 6123221952619380374

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item