सपा का एक प्रतिनिधिमंडल पहुंचा पीड़ितों के गांव

जौनपुर। बदलापुर  कोतवाली क्षेत्र के देवरिया गांव में अनुसूचित जाति की महिलाओं की पुलिस द्वारा पिटाई का वीडियो इंटरनेट मीडिया में गतदिवस वायरल हुआ। इसके बाद मंगलवार को घटना की असलियत जानने के लिए सपा का एक प्रतिनिधिमंडल गांव में पहुंचा। 

 गत 20 मार्च को देवरिया गांव की अनुसूचित जाति बस्ती में विवादित भूमि में लगे केला के पेड़ को काटने को लेकर दो पक्षों में विवाद हो गया था। इसी बीच एक पक्ष के लोगों ने पीआरबी के हेड कांस्टेबल राजेश यादव तथा चालक राजबिहारी यादव को मारपीट कर घायल कर दिया। हेड कांस्टेबल की तहरीर पर पुलिस ने 12 लोगों पर केस दर्ज कर छह महिलाओं सहित आठ लोगों को गिरफ्तार कर चालान न्यायालय भेज दिया। 24 मार्च को पुलिस द्वारा महिलाओं की पिटाई का वीडियो वायरल हुआ।
 इसे सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गंभीरता से लिया। मंगलवार को छह सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रीय अध्यक्ष समाजवादी बाबा साहब वाहिनी मिठाईलाल भारती के नेतृत्व में गठित कर गांव में भेजा। स्वजन ने बताया कि घायल सभी महिलाएं सीओ से मिलने बदलापुर गई हैं। प्रतिनिधिमंडल ने एसएसआइ हरिनारायण पटेल से भी जानकारी ली। पूर्व विधायक ओमप्रकाश दुबे बाबा ने बताया कि दोनों पक्षों से घटना की जानकारी ले ली गई है। प्रतिनिधिमंडल में जिलाध्यक्ष लालबहादुर यादव, पूर्व विधायक सुषमा पटेल, प्रदेश सचिव डा. अवधनाथ पाल, पूनम मौर्या आदि रहे।

Related

news 7882769046552779181

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item