मानवता के लिये योग आवश्यकः प्रो. अजय

 जौनपुर। आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम की श्रृंखला के अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय योग सप्ताह में डी.ए.वी. कालेज लखनऊ द्वारा आयोजित वेबिनार के चतुर्थ दिवस मुख्य वक्ता टीडी कालेज जौनपुर के प्रो. अजय दुबे ने कहा कि योग मानवता के लिए आवश्यक है। योग एक कला है जो हमारे शरीर, मन और आत्मा को एक साथ जोड़ता है। योग विज्ञान पर आधारित एक आध्यात्मिक विषय है जो मन एवं शरीर के बीच सामंजस्य स्थापित करने पर ध्यान देता है। 

योग की उत्पत्ति हजारों वर्ष पूर्व हुई है। इसी क्रम में केन्द्रीय विश्वविद्यालय हरियाणा में असिस्टेंट प्रोफेसर डा. दिनेश चहल ने कहा कि योग हमें प्रतिदिन करना चाहिए। टीडीपीजी कालेज के पूर्व प्राचार्य प्रो. समर बहादुर सिंह ने कहा कि योग व्यक्ति को शांति प्रदान करने के साथ विश्वास, ध्यान, मन और भावनाओं को स्थिर करना चाहिए। महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. सुधांशु सिन्हा ने कहा कि महर्षि पतंजलि के अनुसार चित्त वृत्तियों का निरोध ही योग है। व्यक्तिगत चेतना के साथ एकाकार हो जाना ही योग है। आयोजन समिति के सदस्य डा. विनीता सिंह, डा. राजेंद्र कुमार, डा. आनन्द सिंह, डा. प्रीति सक्सेना, डा. मनोज यादव, डा. दीपक कुमार आदि ने भी अपना विचार व्यक्त किया।वेबिनार का संचालन डा. प्रीती सक्सेना ने किया।

Related

news 8916148652932929732

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item