नहर कटने से तीन गांव की 400 बीघा फसलें डूबीं

खुटहन, जौनपुर। स्थानीय क्षेत्र के शेख असरखपुर गांव में बीती रात शारदा सहायक खंड 36 नहर का बंधा अचानक कट गया। कटान से तेज बहाव के साथ निकल रहे पानी में तीन गांवों की लगभग चार सौ बीघा से ज्यादा क्षेत्र में फैली धान की फसल डूब गई। सुबह होते-होते पानी रिहायशी बस्तियों तक पहुंच गया जो लोगों के तमाम प्रयास के बावजूद भी रोका नहीं जा सका। गनीमत यह रही कि नहर से आ रहा पानी करीब आधा किलोमीटर दूर स्थित बीरवन के नाले में उतर गया। यह नाला गोमती नदी से जुड़ा हुआ है जिससे पानी नदी में जाने लगा। 

मौके पर पहुंची पुलिस ने नहर विभाग को सूचना देकर जलापूर्ति बंद करवायी तब जाकर किसानों ने राहत की सांस ली। फिलहाल प्रशासन युद्ध स्तर पर कटान को सही करने में जुटा है। नुकसान का आंकलन भी लगाया जा रहा है। इसके पहले पानी कटान की जानकारी होने पर ग्रामीण फावड़ा लेकर नहर पर पहुंचे लेकिन तब तक बंधा लगभग 15 फीट तक कट चुका था। इसकी सूचना पुलिस और नहर विभाग को दी गयी। पानी की आपूर्ति तत्काल रोक दी गयी लेकिन इसके बावजूद भी नहर का पानी सुबह तक खेतों में उतरता रहा। तहसीलदार के नेतृत्व में पहुंची राहत टीम शेख असरखपुर, ताजूपुर, संजरपुर और जंजीरगंज गांवों की लगभग 4 सौ बीघा से ज्यादा धान की डूबी फसल देखी। वही ंइस बाबत पूछे जाने पर उपजिलाधिकारी शाहगंज नीतीश सिंह ने बताया कि तहसीलदार महेन्द्र बहादुर सिंह के नेतृत्व में राहत टीम मौके पर जेसीबी की मदद से बंधा ठीक करने में जुटी है। प्रशासन फसल और ग्रामीणों को हुए नुकसान का भी आंकलन कर रहा है, ताकि बाद में ग्रामीणों को राहत देने के लिए उचित कार्यवाही की जा सके।

Related

news 2280626722586620180

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item