चादर पोशी कर मुल्क में आमनो आमान के लिए मांगी गई दुआ

 जौनपुर। पहली मुहर्रम के मौके पर रविवार को शहर में उर्से शम्शी अकीदत के साथ मनाया गया। इस मौके पर जिला कारागार के पीछे शेखपुर मोहल्ले में स्थित काजी मोहम्मद शमसुद्दीन जाफरी की मजार पर चादर पोशी की गई और मुल्क में अमनोअमान के लिए दुआ की गई । 

 मदरसा हानाफिया आलम खान से चादर लेकर अकीदतमंद शेखपुर स्थित काजी शमसुद्दीन अहमद जाफरी की मजार पर पहुंचे जहां जौनपुर शहर के अलावा वाराणसी, गाजीपुर, प्रयागराज, सुल्तानपुर समेत आसपास के कई जिलों से अकीदतमंद पहुंचे थे। अकीदतमंदो ने मजार पर चादर पोशी की। इससे पहले मदरसा हानाफिया के हजरत मौलाना अलहाज मोहिउद्दीन अहमद ने आपसी प्रेम सौहार्द का संदेश दिया। 

उन्होंने अपनी तकरीर में कहा कि हजरत मौलाना समसुद्दीन की किताब कानून ए शरियत जो पूरी दुनिया में पढ़ाई जाती है और शादी के वक्त उस किताब को बच्चियों को दिया जाता है। ताकि वह इस्लामी तौर तरीके से अपनी जिंदगी गुजर बसर कर सकें । उसके बाद नातों का नजराना पेश किया गया । बाद सलाम तबर्रुक का वितरण किया गया। इस मौके पर मौलाना कुद्दुस, मौलाना कयामुद्दीन, मौलाना रहिसुल खैरी, मौलाना शरीफुलहक, मौलाना साबिर, मौलाना फ़ुजैल, शकील मंसूरी आदि मौजूद थे। जलालुद्दीन उसैद ने आये हुए लोगो का शुक्रिया अदा किया।

Related

जौनपुर 3909419695412117269

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item