पुलिस के गुडवर्क पर उठे सवाल, वायरल फोटो वीडियो ने पुलिस के मनगढ़ंत कहानी का किया भंडाफोड़

 जौनपुर। जलालपुर पुलिस इन दिनों एक से बढ़कर एक कारनामे करने में मशहूर है। ताजा मामला एक फर्जी गुडवर्क करने का सामने आया है। स्टार बढ़ाने के चक्कर में जलालपुर पुलिस  अपने अजब-गजब कारनामों से सुर्खियों में है। अभी केराकत पुलिस का फर्जी गुडवर्क का मामला पूरी तरह से ठंडा भी नहीं हुआ कि ताजा मामला  जलालपुर  पुलिस का सामने आया है । पुलिस के ऐसे कारनामों से पुलिस अधीक्षक अजय साहनी के साख पर दाग तो लग ही रहा है साथ में विभाग की भी खूब किरकिरी हो रही है।


आपको बता दे कि 30 जुलाई के दिन में कबूलपुर के ग्रामीणों ने एक चोर को टुल्लू पम्प चोरी के आरोप में रंगे हाथ पकड़ लिया ग्रामीणों की पूछताछ में उसने अपना नाम कटाई बताया ग्रामीणों ने उसे पुलिस के हवाले कर दिया । पुलिस ने अगले दिन 31 जुलाई को उसी चोर के साथ तीन और शातिर चोर को राजेपुर -ऊदपुर मार्ग से चोरी के जेवरात साड़ी नगदी समेत अन्य माल के साथ गिरफ्तार करने का दावा करते हुए तालामझवारा गांव तथा थौर गांव में हुई बड़ी चोरी की घटना का खुलासा करने का दावा कर दिया। 
बड़े खुलासा का गुडवर्क करके पुलिस खूब वाहवाही लूट ही रही थी कि इस बात की जानकारी कबूलपुर के ग्रामीणों हुई तो ग्रामीणों ने पुलिस के फर्जी गुडवर्ग को बेनकाब करने का ठान लिया और कबूलपुर से  30 जुलाई को पकड़े गए चोर का फोटो वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल करने लगे। देखते ही देखते फोटो, वीडियो जिले के आला अधिकारियों के साथ हजारों लोगों के पास पहुंच गया। फोटो, वीडियो सामने आने के बाद जलालपुर  पुलिस की हाथ पांव फूलने लगे पर पुलिस करती भी क्या। पुलिस  चोरों का चालान न्यायालय भेज चुकी थी। पुलिस  जिस तालामझवारा गांव में कथित चार चोरों  का शामिल होने का दावा कर रही थी उस पर भी प्रश्नचिन्ह तब खड़ा हो गया जब उसी गांव के एक पीड़ित ने खुलकर अपनी बात सामने लाई  और मुख्यमंत्री पोर्टल पर पुलिस के विरुद्ध ही शिकायत दर्ज करा दिया। अब देखना यह है कि जिले के आला अधिकारी ऐसे पुलिसकर्मियों के विरुद्ध क्या कार्रवाई करते हैं।

तालामझवारा गांव से पीड़ित के घर से पुलिस लाई थी साड़ी
-------------------------------------------

जलालपुर। पुलिस ने जिन चार साड़ी का बरामदगी दिखाया है दरअसल  वह साड़ी भी पुलिस तालामझवारा गांव निवासी पीड़ित शिवआसरे चौरसिया के घर से ही लाई थी।  पीड़ित शिवआसरे ने बताया कि 26 जुलाई की रात चोरों  ने  एक ही रात में गांव के चर घरों को निशाना बनाया था। सबसे ज्यादा जेवरात सहित नगदी मेरा ही चोरी हुआ था मैंने पुलिस को तहरीर दिया था। 30 जुलाई को थानाध्यक्ष जीतेंद्र बहादुर सिंह मुझे थाने पर बुलवाएं और कहने लगे कि तुम्हारे घर में चोरी करने वाले चोर पकड़े गए है। चोरों ने कबूला है कि वह तुम्हारा सारा माल बेच दिया है। तुम्हारा माल बरामद करने में समय लगेगा तुम कुछ गहना और साड़ी दे दो उसी को बरामदगी मे दिखा कर चोरों का चालान करके न्यायालय भेज दूंगा और न्यायालय से चोरों का रिमांड लेकर 2 दिन के अंदर तुम्हारा सारा माल बरामद कर लूंगा और तुम न्यायालय से अपना माल छुड़ा लेना। इसके बाद मैं घर चला आया कुछ लोगों से समझा बूझा तो उन लोगों ने ऐसा करने से मना कर दिया फिर थाने से बार-बार फोन आने लगा फोन उठाना मैंने उचित नहीं समझा। लगभग 11 बजे रात मेरे घर पुलिस आई और गहना और साड़ी मांगने लगे पुलिस के दबाव में आकर मैंने घर से चार साड़ी दे दिया और गहना न होने की बात कह कर टाल दिया। सुबह मुझे पता चला कि उसी साड़ी  के साथ कुछ अन्य सामान की बरामदगी दिखा कर उन चोरों को जेल भेजा जा रहा है मैंने अपने सामान की मांग की तो वह  वापस नहीं मिला जिसके बाद मैंने मुख्यमंत्री पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज करा दिया है ।


एक दिन पूर्व चारों  चारों में से एक चोर को ग्रामीणों ने पकड़ कर किया था पुलिस के हवाले
-----------------------------------------
जलालपुर। जिस कटाई नामक कथित चोर को पुलिस 31 जुलाई की सुबह तीन अन्य चोरों के साथ राजेपुर- ऊदपुर मार्ग से गिरफ्तार करने का दावा कर रही है दरअसल उसे कबूलपुर के ग्रामीणों ने 30 जुलाई को ही चोरी के टूल्लू पंप के  साथ रंगे हाथ पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया था।
 हुसेपुर गांव निवासी अमित श्रीवास्तव ने बताया कि 29 जुलाई की रात मेरे विद्यालय पर लगे टुल्लू पंप चोरी हो गया था 30 जुलाई को सुबह मुझे पता चला कि कबूलपुर बाजार में कोई टूल्लू पम्प बेचने आया है कुछ लोगों के साथ जब मै बाजार पहुंचा तो चोर मुझे देखकर भागने लगा ।  कस्बा वासियों की मदद से हम लोगों ने उस चोर को दौड़ाकर पकड़ लिया । इसके बाद पुलिस को सूचना दिया। सूचना पाते ही पुलिस मौके पर आ गई और हम लोगों ने चोर को पुलिस के हवाले कर दिया। अमित को इस बात की जानकारी हो चुकी थी कि पुलिस उस चोर को दूसरे मामले में जेल भेज चूकी है। उनका कहना था कि पुलिस सही अपराधियों को पकड़ कर जेल में डालेगी तभी क्षेत्र से अपराध कम होगा।

चोरी की घटना के एक दिन पूर्व कटाई आया था विद्यालय पर मिट्टी फेंकने
------------------------------------------------
जलालपुर। हुसेपुर गांव निवासी अमित श्रीवास्तव ने बताया कि चोरी की घटना के एक दिन पूर्व 28 जुलाई को कटई एक और लोगों के साथ मेरे विद्यालय पर मजदूरी करने आया था और  मिट्टी पाटने का काम किया था। लगता है तभी उसकी नजर मेरे टूल्लू पंप पर पड़ी होगी और दूसरे दिन रात को उसे चुरा ले गया था। मैं जब कबूलपुर बाजार में पहुंचा तो कटई मुझे देखकर पहचान गया और भागने लगा। जिसके बाद उसे दौड़ाकर पकड़ लिया गया।

Related

जौनपुर 6925936792749492021

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item