एक महीने बाद भी अपहरणकर्ताओं का सुराग नही लगा सकी मुंगरा पुलिस

 

मुंगराबादशाहपुर, जौनपुर। स्थानीय थाना क्षेत्र के लौह (पंडित का पूरा) गांव में बीते 6 सितम्बर की आधी रात परदादी की गोंद में सो रहे ग्यारह महीने के मासूम सत्यम को अपहृत करने वाले अपहरणकर्ताओं के गिरेबान तक पुलिस के हांथ एक महीने बाद भी नहीं पहुंच सके है।

विदित हो कि मुंगराबादशाहपुर थाना पुलिस द्वारा घटना का वर्कआउट करने के लिए गठित की गई तीनों टीमें अपहरणकर्ताओं के गिरेबान तक नहीं पहुंच पाई है । किसी अनहोनी घटना की आशंका से ही परिजन परेशान है। गांव में आज भी दहशत का माहौल बरकरार है । लौह (पंडित का पूरा) गांव में छः सितम्बर की आधी रात मुंह पर कपड़ा बांधकर आए अपहरणकर्ता ने दादी की गोद में सो रहे ग्यारह महीने के दुधमुंहे बच्चे को लेकर फरार हो गये थे । जिसकी सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे पुलिस उपाधीक्षक मछलीशहर अतर सिंह एवं तत्कालीन थाना प्रभारी निरीक्षक सदानंद राय ने शीघ्र ही अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार करने का परिजनो को भरोसा दिलाया था । लेकिन उनके आश्वासन के एक महीने के बाद भी पुलिस के हाथ न तो राहुल पाण्डेय के इकलौते मासूम बेटे सत्यम पाण्डेय तक पहुंच सके और न ही अपहरणकर्ता का ही कोई सुराग अब तक हांथ लगा। नतीजतन गांव में दहशत का माहौल बरकरार है।पुलिस इस घटना का वर्कआउट करने में कामयाब होगी अथवा अन्य लूट राहजनी की घटनाओं की तरह इसे भी एक संयोग मान कर अपने कर्तव्यों की इतिश्री कर लेगी समय स्वयं में साक्षी होगा। फिलहाल अपहरण की यह घटना पुलिस के लिए कड़ी चुनौती बनी हुई है । इस बाबत वर्तमान थानाध्यक्ष रमेश यादव का कहना है कि अब तक बच्चे का कोई सुराग हाथ नही लगा है। किंतु पुलिस पूरी तत्परता से मामले का पर्दाफाश करने के लिए छानबीन में जुटी हुई है। इसका पर्दाफाश जल्द से जल्द किया जायेगा।

Related

खबरें जौनपुर 7199505371818020335

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item