हिना के फेफड़े ट्रांसप्लांट के लिए आसमा कालेज ने मदद के बढ़ाये हाथ

खेतासराय(जौनपुर) सीमावर्ती गांव आजमगढ़ जनपद निवासी हिना फेफड़े के इंफेक्शन से जूझ रही है । जीवन की आख़िरी उम्मीद फेफड़े का प्रत्यापर्ण ही है । लेकिन उसका ईलाज लाखों में होने की वजह से परिवार के लोगों को आर्थिक समस्या आड़े आ गई है। सोशल मीडिया पर लोगों ने मुहिम चलाकर हिना के मदद के लिए आगे आ रहे है । क्षेत्र के आसमा कालेज ने एक लाख की मदद की है ।


दर असल आजमगढ़ जनपद के दीदारगंज थाना क्षेत्र के बरबसपुर  गांव निवासी हिना है । वह करीब चार साल से फेफड़े के इंफेक्शन से पीड़ित है, उसके चार मासूम बच्चे है । करीब दो साल से सिलेंडर के सहारे सांसे चल रही है ।

इलाज़ का दबाव बढ़ा तो पति ने भी मुंह मोड़ लिया । पिता का भी देहांत हो गया । हिना के भाई मो कामरान ने बहन का इलाज का बीड़ा उठाया। उपचार में पुश्तैनी जमीन भी बिक गई । रिलायंस अस्पताल में भर्ती डॉक्टरों ने हिना के जीवन की एक मात्र सहारा फेफड़े का प्रत्यापर्ण ही बताया । जिस से हिना के घर वालों का पैरों तले जमीन खिसक गई । इंटरनेट मीडिया से मुंबई, पूर्वीय प्रदेश आजमगढ़, जौनपुर समेत अन्य जनपदों के लोगों को हुई तो लोग मदद के लिए हाथ आगे बढ़ा रहे है ।

क्षेत्र के अस्मा अरबिक कॉलेज के छात्रों ने हिना बचाव मुहिम में प्रार्थना के बाद दान पेटिका में मदद डाली । स्कूल प्रबंध की तरफ़ से धर्मगुरु मौलाना वहीद कासमी ने एक लाख की राशि मदद के लिए आगे आये । इंटरनेट मीडिया के यूज़रो ने बताया कि बड़ी संख्या में लोग हिना की सांस बचाने के लिए आगे आ रहे है ।

Related

डाक्टर 6927728944617917467

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item