जनाबे फात्मा ज़हरा दुनिया की औरतों के लिये आदर्श हैं: मौलाना ज़ैदी

 जौनपुर। जामिया इमानिया नासिरया हमाम दरवाज़ा जौनपुर में पैग़म्बरे इस्लाम हज़रत मोहम्मद मुस्तफा (स.अ.व.) की बेटी हज़रत फात्मा ज़हरा (स.अ.व.) की शहादत की मुनासिबत से तीन दिवसीय मजालिसे फातमी का आयोजन हुआ जहां मजलिसों को  देश के विभिन्न ज़िलों से आये उल्मा, ख़ुत्बा एवं ज़ाक़ेरीन ने ख़ेताब किया। मजलिसों में शहर के विभिन्न सोज़खानों ने बीबी फातिमा ज़हरा (स.अ.) को अपनी अपनी दर्द भरी आवाज़ों में नज़रान ए अकीदत पेश किया और कई शायरों ने भी अपने कलामों को पेश किया। मजलिस में मौलाना सैय्यद ज़फ़र अली अकबरपुरी अम्बेडकरनगर, मौलाना मुशीर अब्बास खां सुल्तानपुर, मौलाना सैय्यद क़मर हसनैन रिज़वी छौलसवी गाज़ियाबाद, मौलाना सैय्यद इमाम हैदर ज़ैदी मोहम्मदाबादी देहली, मौलाना सैय्यद नदीम रज़ा ज़ैदी वाईस प्रिंसिपल वसीक़ा अरबी कालेज फैज़ाबाद अयोध्या, मौलाना सैय्यद मोहम्मद असग़र फैज़ी प्रो. दीनियात अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी अलीगढ़, मौलाना मिर्ज़ा यासूब अब्बास महासचिव आल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड लखनऊ, मौलाना सैय्यद तहक़ीक़ हुसैन रिज़वी इमामे जुमा भावनगर गुजरात, मौलाना सैय्यद मोहम्मद मेंहदी मेंहदवी सरबराह जामिया इमामे मेंहदी आजमगढ़, मौलाना सैय्यद अशरफ अली ग़रवी वकीले मरज ए आज़म आयतुल्ला उल उज़्मा सैय्यद अली सिस्तानी दफतरे लखनऊ, मौलाना सैय्यद मोहम्मद हुसैनी नायाब इमामे जुमा मुज़फ्फरनगर,

मौलाना सैय्यद कर्रार हैदर मौलाई मुज़फ्फरनगर ने सम्बोधित किया। इसी क्रम में आख़िरी मजलिस को जामिया इमानिया नासिरया जौनपुर के प्रिंसिपल एवं इमामे जुमा मौलाना महफुज़ुल हसन ख़ां सम्बोधित करेंगे। मौलाना सैय्यद क़मर हसनैन रिज़वी ने पैग़म्बरे इस्लाम हज़रत मोहम्मद मुस्तफा (स.अ.व.) की हदीस की रौशनी में मिल्लत को बुराइयों से दूर रहने का आह्वान करते हुये कहा कि शहादते फात्मा ज़हरा पर हम सब यह तय करें कि हम एक ऐसे समाज की स्थापना करें जिसमें सबके अधिकार महफूज़ रहें। मौलाना सैय्यद इमाम हैदर ज़ैदी ने कहा कि दुनिया की औरतों के लिए जनाबे फात्मा ज़हरा (स.अ.व) आदर्श हैं। उन्होंने इस्लाम के लिए कुर्बानी पेश की अहलेबैत (अ.स.) की मोहब्बत को अल्लाह ने मुसलमानों के लिए फ़र्ज़ किया है। मुसलमान चाहे जिस फिरक़े का हो, वह अपनी नमाज़ों में पैग़म्बरे इस्लाम हज़रत मोहम्मद मुस्तफा (स.अ.वत्.) के साथ अहलेबैत (अ.स.) पर भी दुरूद भेजता है। मजलिसों में सभी ज़ाकेरीन ने बीबी फातिमा ज़हरा (स.अ.व.) की सीरत उनकी तालिमात कुर्बानी उनकी शहादत पर रोशनी डाली। उनके मसायब पर मजलिसों में मौजूद  हाज़ेरीन की आंखें नम हो गईं। इन मजलिसों की निज़ामत (संचालन) मौलाना सैय्यद आबिद रज़ा रिज़वी मोहम्मदाबादी मोअल्लिम जामिया इमानिया नासिरया एवं आक़िब बरसारवी तालिबे इल्म जामिया इमानिया नासिरया जौनपुर ने किया। जामिया इमानिया नासिरया के प्रिंसिपल एवं इन मजालिस की इन्तेज़ामिया के कन्वीनर (संयोजक) मौलाना महफुज़ुल हसन खां ने मजलिसों में शिरकत करने वाले सभी मोमेनीन और मोमेनात का शुक्रिया अदा किया।

Related

JAUNPUR 4814748428075765545

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item