14 बहनों ने जेल में बंद भाइयों को बांधी राखी, 46 बहनों को मायूस होकर वापस लौटना पड़ा

जौनपुर। कोरोना संक्रमण से बचाव को सरकार की नई गाइड लाइन के चलते पूरे साल भर प्रतीक्षा के बाद रक्षाबंधन के मौके पर जिला कारागार में निरुद्ध भाइयों की कलाई राखी से सजाने पहुंचीं 60 में से 46 बहनों को मायूस होकर लौटना पड़ा। आरटीपीसीआर रिपोर्ट लेकर आईं 14 बहनों ने भाइयों से मिलकर राखी बांधी। 

 जिला कारागार अधीक्षक एसके पांडेय ने बताया कि शासन की गाइड लाइन में स्पष्ट है कि कम से कम 72 घंटे पूर्व की आरटीपीसीआर रिपोर्ट लाने पर ही जेल में निरुद्ध बंदियों से उनके स्वजन की मुलाकात कराई जाएगी। रक्षा बंधन के मौके पर कुल 60 महिलाएं जेल में निरुद्ध अपने भाइयों को राखी बांधने मीठा, रोली आदि लेकर आईं थीं। इनमें से सिर्फ 14 के पास से ही आरटीपीसीआर रिपोर्ट थी। ऐसे में उन्हें भाइयों से मिलने की इजाजत दी गई। उन्होंने मिलकर भाई की कलाई राखी से सजाई और मिठाई खिलाकर रक्षा का वचन लिया। अन्य बिना रिपोर्ट के आईं 46 महिलाओं से मिठाई, राखी आदि लेकर जेल प्रशासन ने उनके भाइयों को उपलब्ध करा दिया। उन्होंने कहा कि 16 अगस्त से मुलाकात की अनुमति होने के बाद जेल प्रशासन बंदियों को कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के मद्देनजर गाइड लाइन का पूरी सख्ती से पालन करा रहा है।

Related

JAUNPUR 3225035300773434243

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item