शाहगंज प्रकरण में दोनो पक्षो ने दर्ज कराया मुकदमा: डीएम

जौनपुर। शाहगंज में शनिवार की रात भाजपा नेता के होटल में हुई बीजेपी गठबंधन प्रत्याशी और सपा प्रत्याशी ललई यादव व दोनो पक्ष के समर्थको की हुई मारपीट और धक्का मुक्की के मामले में दोनो पक्षो की तहरीर पर मुकदमा दर्ज हो गया है। एफआईआर दर्ज होने की पुष्टी खुद जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने किया है। 

मालूम हो कि शनिवार को इस मामले पर सपा प्रत्याशी ने ललई यादव का आरोप है कि कल रात हमारा एक समर्थक शाहगंज बाजार से गुजर रहा था इसी बीच भाजपा-निषादराज पार्टी के प्रत्याशी रमेश सिंह के समर्थक द्वारा भाजपा नेता प्रदीप के होटल पर ले गय वहां पर उसे पैसा और दारू देने का प्रलोभन दिया गया उसने इंकार कर दिया तो उसे जाति सूचक शब्दो का इस्तेमाल करते हुए पिस्टल सटाकर जान से मारने की धमकी दिया । 

यह जानकारी मेरे समर्थको और मुझे लगी तो मैने इस्पेक्टर कोतवाली को सूचना दी लेकिन इस्पेक्टर ने हीलाहवाली किया। प्रशासन समय से नही पहुंचा। हमारे समर्थक और मै मौके पर पहुंचा तो चुनाव आयोग की धज्जियां उड़ायी जा रही थी जब हम लोगो ने इसका विरोध किया तो मौके प्रदीप जायसवाल, निषादराज पार्टी का प्रत्याशी रमेश सिंह और उनके दबंग किस्म के समर्थको ने मेरे और मेरे साथियों के ऊपर हमला बोल दिया। 


उधर दूसरे पक्ष का आरोप है कि भाजपा नेता के होटल पर रात में सपा प्रत्याशी क्षेत्रीय विधायक शैलेंद्र यादव ललई अचानक समर्थकों के साथ धमक पड़े थे। उस समय होटल में ओम प्रकाश जायसवाल के छोटे भाई और नगर पालिका अध्यक्ष गीता जायसवाल के पति प्रदीप जायसवाल पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं के साथ चुनावी रणनीति तय करने में जुटे थे। शराब बांटने के आरोप को लेकर शैलेंद्र यादव ललई और उनके समर्थक हंगामा करने लगे। इस पर दोनों पक्षों के बीच तकरार, हाथापाई व तोड़फोड़ हो गई थी। पुलिस पहुंची तो शैलेंद्र यादव ललई समर्थकों के साथ वहां से जा चुके थे।
 घटना से आक्रोशित निषाद पार्टी-भाजपा गठबंधन के उम्मीदवार रमेश सिंह करीब नौ बजे नगर के जेसीज चौक पर कार्यकर्ताओं के साथ धरना पर बैठ गए। इसी दौरान भाजपा के जिलाध्यक्ष पुष्पराज सिंह पार्टी के अन्य पदाधिकारियों के साथ आ गए। कहा कि सपा विधायक का रवैया जनता देख रही है। जनता उन्हें जवाब देगी। आक्रोशित कार्यकर्ता विधायक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। एएसपी (सिटी) के मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई किए जाने का आश्वासन देने पर रात एक बजे धरना व रास्ता जाम खत्म हुआ। इस बाबत पूछने पर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सुधीर कुमार आर्य ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। तथ्यों के आधार पर आगे विधिक कार्रवाई की जाएगी।

Related

crime 7891928937404562464

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item