जांच में लगातार फेल हो रहे हैं दवाओं के नमूने

 जौनपुर। जनपद के दवा व्यवसाय में डिस्काउंट, उपहार और निशुल्क सुविधाओं के प्रलोभन के जरिए अंदर तक घुस चुका नकली, अधोमानक, ओवर रेटिंग का खेल खत्म होता नहीं दिख रहा है और न ही धोखा खाकर अपना धन और स्वास्थ का नुकसान उठा रही जनता को राहत मिलती दिख रही है ।क्योंकि जनपद में नकली और अधोमानक दवा के पूरे के पूरे रैकेट को औषधि और खाद्य विभाग ने वाक ओवर दे रखा है। 

यह आरोप लगाया है जनपद के अग्रणी दवा संगठन केमिस्ट एंड कॉस्मेटिक वेलफेयर एसोसिएशन के महामंत्री राजेंद्र निगम ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को किए गए ट्वीट में उन्होंने मामले की जांच कर नकली और अधोमानक दवाओं पर तत्काल रोक लगाने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने आरोप लगाया नकली, नशीली और अधोमानक दवाएं बेचने वाले सिंडिकेट स्थानीय औषधि विभाग के बीच नूरा कुश्ती चलती है जिसके तहत पहले दवाओं की सैंपलिंग कर उन्हें जांच के लिए भेजा जाता है सैंपल फेल होने की रिपोर्ट आने के बाद सौदा तय कर अग्रिम कार्यवाही को विलंबित कर दिया जाता है विभाग द्वारा विलंब किए जाने के लाभ उठाकर आरोपी के द्वारा रिपोर्ट को चैलेंज करने का अवसर नहीं मिलता तब तक जांच के लिए सैंपल की गई दवाएं एक्सपायर हो जाती है जब दवाएं एक्सपायर हो जाती है तो आरोपी को संदेह का लाभ मिल जाता है इस प्रकार नकली अधोमानक और नशीली दवा बेचने वाले कानून के शिकंजे से बच जाते हैं। संगठन ने पिछले एक वर्ष में जांच में फेल हुए नकली दवाओं पर हूई कारवाई पर समीक्षा की मांग की है।

Related

news 3558673876976196936

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item