ग्रामसभा की भूमि की रखवाली करने की बजाय सौदेबाजी

 जौनपुर।  लेखपाल अश्विनी कुमार श्रीवास्तव पर अवैध कब्जे में सहयोग करने पर एसडीएम केराकत राजेश कुमार चौरसिया ने शुक्रवार को निलंबित कर दिया। ग्राम सभा की भूमि की रखवाली करने की बजाय इसकी सौदेबाजी की जा रही थी, जिसकी कीमत चुकानी पड़ी। 

 एसडीएम ने बताया कि पुरेंव गांव में शिकायत मिली थी कि कुछ लोग ग्रामसभा की भूमि पर अवैध कब्जा किए हैं। जांच में शिकायत सही पाया गया और लेखपाल को निर्देशित किया गया कि वह अवैध कब्जाधारकों के खिलाफ तहसीलदार न्यायालय में राजस्व संहिता की धारा के तहत कार्यवाही करें। इसके बाद भी समय बीतने के साथ ही अतिक्रमणकारियों पर न तो कोई कार्यवाही हुई और न ही कोई रिपोर्ट न्यायालय में प्रेषित की गयी। कहा कि इस कार्य में लेखपाल अश्विनी कुमार श्रीवास्तव की भूमिका संदिग्ध देख तहसीलदार रामसुधार ने जांच कर रिपोर्ट सौंपी। इसमे यह पता चला कि कुछ स्थानों पर सह पर कब्जा किया गया है। ऐसे में लेखपाल को इस कार्य में संलिप्त मानकर तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर रजिस्ट्रार कार्यालय से संबद्ध कर दिया। तीन साल पूर्व यही लेखपाल महरेंव गांव में बंजर भूमि को भूमि कब्जा कराने में के मामले में भी निलंबित किया जा चुका है। इस कार्रवाई के बाद भी सुधार नहीं हुआ।

Related

news 7180966906707011889

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item