ठेकेदार ने दिखाई दिलेरी तो पकड़ा गया पीडब्ल्यूडी विभाग का घूसखोर कर्मचारी

 

जौनपुर । योगी सरकार का भृष्टाचार को खत्म करने के अभियान पर कार्यदायी संस्थान के अधिकारी, कर्मचारी पूरी तरह से बट्टा लगा रहे है वगैर कमीशन लिए एक फ़ाइल आगे नही बढ़ रही , ठेकेदार भी चुपचाप साहेब द्वारा मांगी रकम को देकर अपना काम कर रहे है , लेकिन आज एक कॉन्ट्रैक्टर ने दिलेरी दिखाते हुए पीडब्ल्यूडी के एक घूसखोर कर्मचारी को जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया। 

 वाराणसी की एंटी करप्शन विभाग की टीम ने सोमवार को लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) के एक लिपिक को कार्यालय के बाहर 45 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। शिकायत में टीम ने जांच में मामला सही पाया जिसके बाद यह कार्रवाई की गई।
 मीरगंज थाना क्षेत्र में पुलिया का निर्माण कराया जा रहा है। आरोप है कि काम के बदले करीब 4.5 लाख रुपये का भुगतान फंसा हुआ है। ठेकेदार विपुल सिंह कहता तो पीडब्ल्यूडी में तैनात लिपिक योगेंद्र यादव कमीशन की बात करता था। एंटी करप्शन टीम के अनुसार, ठेकेदार से कुल भुगतान का 12 फीसदी मांगा जा रहा था। ऐसे में बात 10 फीसदी कमीशन पर टूटी।सोमवार को ठेकेदार 45 हजार रुपये लेकर उसे देने आया था। इसकी जानकारी ठेकेदार ने एंटी करप्शन टीम को दे रखी थी। ठेकेदार ने जैसे ही रिश्वत दी वैसे ही टीम ने लिपिक को पकड़ लिया। फिलहाल आरोपी से जफराबाद थाने में लाकर कानूनी कर्रवाई पूरी की गई।

Related

crime 4295639972325947500

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item