बक्शा थाना क्षेत्र के इस गांव में चल रहा है गोकशी का अवैध कारोबार !

जौनपुर। बक्शा थाना क्षेत्र के रन्नो गांव के एक कुएं में गोवंश के अवशेष का वीडियो वायरल होते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। पुलिस अधीक्षक  के निर्देश पर शुक्रवार की रात में पुलिस ने रन्नो गांव में छापेमारी करके मौके से चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की, तीन बाइक को भी कब्जे में लिया । 

रन्नो गांव के बस्ती से दूर निर्जन स्थान पर स्थित कुएं में पड़े गोवंश के कई सिर, पैर व अन्य अवशेष की फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा था जिस पर विश्व हिंदू परिषद व आरएसएस से जुड़े लोगों ने उच्च अधिकारियों से शिकायत की थी। 
 आरोप है कि गांव में बक्शा थाने की पुलिस की शह पर गोकशी का अवैध कारोबार लंबे समय से चल रहा है। गांव के लोगों ने स्थानीय पुलिस से इसकी शिकायत भी की लेकिन पुलिस ने उसे अनसुना कर दिया । सूत्रों की माने तो गांव में पुलिस की शह पर ही गोकशी का कारोबार चलता है और इसके एवज में पुलिस मोटी रकम वसूलती है । गांव में चल रहे गोकशी के अवैध कारोबार मे लिप्त  समुदाय का ही एक तबका इस अवैध कारोबार से बेहद खिन्न है । उनका कहना है कि यह कारोबार अगर बंद नहीं हुआ तो गांव का माहौल खराब हो सकता है । गांव में अमन चैन को बहाल रखने के लिए इस अवैध धंधे को बंद कराना चाहिए। गोकशी के अवैध कारोबार में लिप्त समुदाय के  ही कुछ लोगों का दावा है कि उन्होंने पिछले महीने में ही बक्शा थाना अध्यक्ष के सीयूजी नंबर पर व्हाट्सएप के जरिए यह सूचना दी थी कि गांव में गोकशी का धंधा चल रहा है। लेकिन घटना की जांच कर कार्रवाई करने के बजाय पुलिस ने उनका ही उत्पीड़न शुरू कर दिया जिन्होंने इसकी शिकायत की थी। पुलिस के ऐसे व्यवहार से निराश होकर शिकायत करने वाले लोग भी चुप बैठ गए ।
अब गांव के कुएं में पड़े गोवंश के फोटो व अवशेष वायरल होने पर हिन्दू संगठन के लोग सक्रिय होने पर पुलिस हरकत में आई इस संबंध में विश्व हिंदू परिषद के जिलाध्यक्ष राकेश दुबे का कहना है कि जानकारी में आया है इसकी शिकायत ऊपर तक की गई है अगर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की तो वे इस मामले को ऊपर उठाया जाएगा वही दूसरी तरफ विभाग संपर्क प्रमुख स्वंय सेवक संघ शैलेंद्र पांडे ने भी बताया कि मामले की जो जानकारी मिली थी उसको जाँच व कार्यवाही के लिए उच्च अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है इस प्रकरण में थानाध्यक्ष का कहना है कि छापा मारा गया था कुछ  नहीं मिला । 
 बक्सा  पुलिस पर आरोप है कि शुक्रवार की रात गांव में छापेमारी के दौरान आरोपियों के घरके पास बधे कुछ मवेशियों को छोड़वा दिया। नाम न छापने की शर्त पर एक व्यक्ति ने बताया कि रात में गांव मे पुलिस की छापेमारी में हड़कंप मचा था पुलिस ने तीन चार लोगों को हिरासत में लिया पूछताछ कर छोड़ दिया बधे कुछ मवेशियों को छोड़वा दिया तीन चार बाइको को लेकर थाने गई। 

Related

news 3604741021711387029

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item