दुनिया में किरदार ऐसा निभाओ कि लोग हमेशा याद करें:मौलाना यूसुफ

जौनपुर। हिंदुस्तान के मशहूर शायरे अहलेबैत मरहूम मुफ्ती मेंहदी हैदर अंजुम जौनपुरी की मजलिसे बरसी गुरूवार की रात्रि अजमेरी मुहल्ला स्थित उनके आवास पर संपंन हुई। बनारस से आये मौलाना सैयद यूसुफ मशहदी ने कहा कि इंसान को अपना किरदार इस तरह दुनिया के सामने पेश करना चाहिए कि दुनिया से रूखसत होने के बाद भी लोग उन्हें याद क रें। उन्होंने कहा कि अल्लाह उसके लिए हमेशा जन्नत का दरवाजा खुला रखता है जो मोहम्मद व उनके अहलेबैत की पैरवी करते हैं। 

अंजुम जौनपुरी भी उनमें से एक थे जिन्होंने अहलेबैत की शान में तमाम कसीदे व रूबाईयां लिखने के साथ ही कई दर्द भरे नौहे लिखे व पढ़े थे। आज वो हम लोगों के बीच नहीं है पर उनकी यादें कलाम व नौहे व मर्सिये की शक्ल में जिंदा है। मौलाना ने कहा कि कर्बला हमें न सिर्फ हक पर चलने का रास्ता दिखाती है बल्कि बातिल के खिलाफ आवाज उठाने की ताकत भी देेती है ऐसे में हम लोगों को चाहिए कि अपने वालेदैन की हमेशा खिदमत करते रहें क्योंकि वही जन्नत जाने का सीधा रास्ता दिखाता है। इससे पूर्व सोजखानी सैयद गौहर अली जैदी व उनके हमनवा ने पढ़ी। पेशखानी रिजवान व जमीर बनारसी, शादाब एवं वहदत जौनपुरी ने किया। इस मौके पर रज़ी आब्दी, मसूदुल हसन, फहमी आब्दी, अजमी आब्दी, कांग्रेस के जिलाध्यक्ष फैसल हसन तबरेज, नीरज राय, सभासद सदफ हैदर, मुफ्ती दानिश काजमी, मोहम्मद असलम नकवी, मास्टर मोहम्मद हसन पूर्व प्रधानाचार्य, नजमुल हसन नजमी, सै.हसनैन कमर दीपू, सैयद अफसर हसन, सैयद शहंशाह आब्दी, सैयद मुस्तफा शम्सी, सैय्यद रूमी आब्दी वस्ती रजा, मोहम्मद अब्बास आदि लोग मौजूद रहे,आभार मुफ्ती हाशिम मेंहदी ने प्रकट किया।

Related

JAUNPUR 567382802195882294

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item