जानिए क्यों फिर सुर्ख़ियो में आये सीओ अनिरुद्ध सिंह

चंदौली। जनपद एक ऐसे विवाह का साक्षी बना जिसमें वधू पक्ष की जिम्मेदारी चंदौली पुलिस द्वारा निभाई गई । सकुशल विवाह संपन्न हुआ और बरात में शामिल सभी लोगों ने इस अनोखे विवाह को लेकर चंदौली पुलिस को धन्यवाद दिया । विवाह समारोह में जिले के पुलिस अधीक्षक अपर पुलिस अधीक्षक विधायक ब्लाक प्रमुख पुलिस अधिकारी संभ्रांत नागरिकों ने वर वधु को आशीर्वाद दिया और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की । इस दौरान चंदौली पुलिस द्वारा बेटी की शादी की पूरी जिम्मेदारी अपने ऊपर ले कर दहेज रहित विवाह को संपन्न कराया गया । विवाह समारोह में बड़ी संख्या में लोग पहुंचे और वर-वधू को आशीर्वाद देने के साथ ही सीओ सकलडीहा को इस नेक कार्य के लिए बधाई भी दी ।

हाथों में माला लिए द्वार पर खड़े ये पुलिस वाले अपने अधिकारी या किसी वीआईपी  के आव भगत के लिए नहीं खड़े हैं । बल्कि अपनी मुंह बोली बहन की शादी में दूल्हा पक्ष के स्वागत के लिए खड़े हैं । जी हां हम बात कर रहे हैं जिले में संपन्न हुई ऐसे विवाह का जिसकी चर्चा चहुओर है। इस अनोखे विवाह को दुल्हन के मुंह बोली भाई सीओ सकलडीहा अनिरुद्ध सिंह ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और गरीब परिवार की शिखा की शादी धूमधाम से संपन्न कराई। यूं तो आपने हमेशा पुलिस के ऐसे खबरों को दिखा होगा जिससे आपके मन में हमेशा गुस्से और द्वेष की भावना ही आती है । लेकिन चंदौली पुलिस ने ऐसा काम कर दिया है जिसकी चर्चा और चंदौली पुलिस की सराहना चारो तरफ हो रही है। दरअसल धानापुर थाना क्षेत्र के आवाजापुर गांव निवासी शिखा का परिवार बहुत गरीब है और दहेज के अभाव में उसकी शादी नहीं हो पा रही थी । बेटी की शादी के गम में कुछ महीने पहले मां ने भी आत्महत्या कर ली थी। बेटी की शादी के नेक काम मे आवाजापुर के समाजसेवी दुर्गेश सिंह आगे आए और सीओ सकलडीहा अनिरुद्ध सिंह से बेटी के विवाह की चर्चा की । मामले में सीओ सकलडीहा अनिरुद्ध सिंह आगे आए और शिखा और उसके परिजनों से बातचीत की। साथ हो लड़के के पिता से बात की और सकलडीहा क्षेत्र के आवाजापुर निवासी अवधेश से शिखा का विवाह तय कर दी । शिखा की शादी की सभी जिम्मेदारी सीओ सकलडीहा ने अपने कंधे पर लिया और 22 अप्रैल को हल्दी की रसम संपन्न हुई । जिसमें खुद अनिरुद्ध सिंह शामिल रहे और 23 अप्रैल को धूमधाम से आवाजापुर के डिग्री कॉलेज परिसर में पुलिस वालों की मुंह बोली बहन सिखा और अवधेश की शादी सकुशल संपन्न हुई । इस दौरान बरठी से आवाजापुर पहुंची बरात में काफी लोग शामिल थे नाचते गाते हुए बाराती आवाजापुर डिग्री कॉलेज पहुचे । जहा द्वार पर बारात के स्वागत में सीओ सकलडीहा अनिरुद्ध सिंह समेत बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी मौजूद रहे । बारातियों का स्वागत किया गया दूल्हे को जय माल की स्टेज तक पहुंचाया गया फिर अपनी मुंह बोली बहन को सीओ सकलडीहा और पुलिस अधिकारियों ने जय माल की स्टेज पर पहुंचाया और जमाल का कार्यक्रम संपन्न कराया। इस दौरान वर वधू को आशीर्वाद देने के लिए चंदौली पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल अपर पुलिस अधीक्षक सुखराम भारती कई ब्लॉक प्रमुख कई संभ्रांत नागरिक कई थानों के थानाध्यक्ष सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित हुए और सभी ने वर वधु को आशीर्वाद दिया । इस दौरान सीओ सकलडीहा की तरफ से विवाह की पूरी जिम्मेदारी लेते हुए विवाह सकुशल संपन्न कराया गया।सीओ सकलडीहा अनिरुद्ध सिंह ने अपनी मुंह बोली बहन का विवाह धूमधाम से संपन्न कराया । वही दूल्हा दुल्हन ने सीओ सकलडीहा सहिय चंदौली पुलिस को धन्यवाद दिया। जबकि वर वधु के पिता ने दहेज रहित विवाह के लिए सीओ सकलडीहा अनिरुद्ध सिंह और समाजसेवी दुर्गेश सिंह को धन्यवाद देते हुए आभार प्रकट किया।

गरीब परिवार की बेटी के भाई के रूप में अपने फर्ज को निभाते हुए सीओ सकलडीहा अनिरुद्ध सिंह ने कहा उन्हें बहुत खुशी है उनकी कोई बेटी नही है इसलिए अपनी मुंह बोली बहन की शादी में धूमधाम से कर रहा हु । बेहद गरीब परिवार है मुझे भी खुशी हो रही है कि मैं इनकी शादी करा रहा हूं यह दहेज रहित शादी और समाज को विवाह के माध्यम से संदेश देना चाहता हूं कि लोग दहेज रहित विवाह करें ताकि दहेज के अभाव में किसी बेटी के सपने ना उजड़ न पाए।

वही चंदौली पुलिस द्वारा आयोजित इस विवाह में शामिल होने आए लोगों ने इसके लिए चंदौली पुलिस को धन्यवाद दिया और इस दहेज रहित विवाह का उदाहरण देते हुए काज ताकि समाज में दहेज रहित विवाह करना चाहिए उन लोगों के मुंह पर तमाचा है दहेज का लालच करते हैं चंदौली पुलिस के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद ।

Related

भदोही 1349304076994116682

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item