किसानों को परेशान करने वाले कर्मचारियों की जांच कर कार्यवाही की जाय: वकार हुसैन

 

जौनपुर। चकबन्दी कर्मचारियों द्वारा किसानों का शोषण, धनउगाही एवं भ्रष्टाचार को लेकर हिन्दुस्तान मानवाधिकार संगठन ने सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लिखित शिकायत किया। प्रदेश सचिव वकार हुसैन ने शिकायत के माध्यम से कहा कि आखिर कब मिलेगी भ्रष्टाचार से निजात एवं कब मिलेगा आम लोगों को ससम्मान जीतने का अधिकार? उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार अपराधियों एवं भ्रष्टाचारियों पर शिकंजा कसती नजर आ रही है लेकिन इसके बावजूद भी चकबन्दी विभाग द्वारा किसी के नक्शे में कमी, किसी के नाम या पिता के नाम में कोई त्रुटि, एक साजिश के तहत उपजाऊ भूमि की मालियत कम एवं कम उपजाऊ की भूमि अधिक दिखा दिया जा रहा है। इतना ही नहीं, तरमीम और वरासत के नाम पर मोटी रकम वसूली जा रही है। श्री हुसैन ने कहा कि 20—25 वर्षों से हरा—भरा बाग कागज पर तभी सही माना जायेगा जब कर्मचारियों की जेब गरम की जाती है। कोई व्यक्ति नियमानुसार अपनी जमीन पर कोई निर्माण करना चाहता है तो उसे अनुमति तभी मिलेगी जब विभागीय लोगों को 25—30 हजार रूपया दिया जायेगा। इसके अलावा कटौती की जमीन शातिर लोग मोटी रकम देकर आबादी के नाम पर प्राप्त कर लेते हैं जबक इसे गांव के सामूहिक लाभ के लिये दिया जाना चाहिये। मनपसन्द चक लेना हो तो विभागीय लोगों की जेब को गरम करना पड़ता है। इतना ही नहीं, भ्रष्टाचार की किसी शिकायत पर जब ऐसे लोगों से सवाल किया जाता है तो वे स्वयं को हरिश्चन्द्र ही बताते हैं। श्री हुसैन ने चकबन्दी कार्यालय पचहटियां शीतला माता चौकियां, सर्किल कार्यालय सिद्दीकपुर एवं विकास खण्ड करंजाकला की ओर ध्यान आकृष्ट कराते हुये जांचोपरांत कार्यवाही करने की मांग किया है।

Related

JAUNPUR 5878122167115214617

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item