सर्दियों में ग्रामीण इलाके के लोगों का बदला जायका

 

जौनपुर। सर्दियों का मौसम आते ही जनपद के ग्रामीण इलाकों में लोगों का जायका बदल गया है। ज्यादातर लोगों के घरों पर अपने खेतों में लगाई गई सब्जियां तैयार हो गई हैं।पालक,मेथी, फूलगोभी, पत्तागोभी, टमाटर, बैंगन ,सेम सब तैयार है।बलुई मिट्टी वाले इलाकों में नई आलू की खुदाई भी शुरू हो गई है। 

जिन्होंने सब्जियों की खेती नहीं की है बाजार में अच्छी आवक के चलते  सब्जियां सस्ते में मिल रही हैं जिसके कारण घरों में व्यंजनों की धूम मची हुई है।हरी धनिया और हरे लहसुन के पत्तों को पीसकर हरी मटर का निमोना सबको भा रहा है।राई, बथुआ और चने का साग नये चावल के साथ खाकर लोग डकार रहे हैं।मक्के के आटे से चूल्हे की आग पर बनी रोटी को साग और गुड़ घी के साथ खाना जहां सुबह के नाश्ते में शामिल है वहीं दोपहर के नाश्ते में  नई आलू और मटर की हरी धनिया और हरे लहसुन के पत्तों को पीसकर बनी सलोनी शामिल है। स्कूलों की छुट्टियों के चलते घरों में बच्चे व्यंजनों की एक पर एक फरमाइश कर रहे हैं। पकौड़ी, समोसा और पराठे सब लोगों को खाया खिलाया जा रहा है। घरों में अलाव जलाकर तापते समय आलू भी भूनी जा रही है भुनी आलू का चोखा कौन नहीं खाना चाहता ? सब्जियों की अच्छी आवक और घरेलू सब्जियों की पैदावार के चलते ग्रामीण इलाकों की बाजारों जैसे बंधवा,जमुहर,जंघई, मीरगंज, मछलीशहर,पवांरा,गोधना, मोलनापुर,गरियांव, सतहरिया, मुंगराबादशाहपुर, सुजानगंज,बरसठी की सब्जी की दुकानें फीकी - फीकी लगती है इसके उलट मुर्गा, मछली,मीट और अण्डे की दुकानों पर बढ़े हुये दामों के बावजूद शाम होते- होते लोगों का ऐसा हुजूम उमड़ता है मानों छोटा- मोटा मेला लगा हो।

Related

डाक्टर 581640413145493306

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item