चार महिलाओं की बीच संघर्ष शुरू, हथियार बना साम, दाम, दण्ड, भेद

जौनपुर। जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में दावेदारी करने वाली अपना दल एस की दूसरी प्रत्याशी सुनीता वर्मा द्वारा नाम वापस लेने के बाद मैदान में बची चार महिलाओं की बीच जंग शुरू हो गयी है। चारो प्रत्याशियों का प्रचार हैण्ड पम्प की तरह चल रहा है, ऊपर से तो सभी ढ़ाई फीट दिखाई दे रही लेकिन कोई सौ फीट नीचे से पानी निकालने का प्रयास कर रहा तो कोई ढ़ाई सौ फीट नीचे से। कुल मिलाकर संघर्ष बड़ा भीषण दिखाई पड़ रहा है। फिलहाल जीत का सेहरा किसके सिर पर बधेगा इसका फैसला तीन जुलाई को होगा।  

मंगलवार को नाम वापसी के बाद मैदान में सपा प्रत्याशी निशी यादव, बीजेपी-अपना दल की सुनीता पटेल, पूर्व बाहुबली सांसद धनंजय सिंह की पत्नी श्रीकला धनंजय सिंह और प्रतापगढ़ के पूर्व सांसद हरिबंश सिंह की बहू नीलम सिंह मैदान में है। सभी प्रत्याशियों के नेताओं व समर्थको की तरफ से जिला पंचायत सदस्यो को अपने पक्ष में वोट डालने के लिए पूरी ताकत झोक दिया है। कोई पुराने रिश्तो की याद दिला रहा है तो कोई पार्टी के प्रति निष्ठा दिखाने का सुनहरा मौका बता रहा है तो कोई दबी जुबां उनकी कीमत भी लगा रहा है। 

(साम यानी सुक्षाव देना या किसी कार्य को करने के लिए कहना, दाम यानी कार्य के बदले मूल्य चुकाने की पेशकश करना, दंड यानी सजा देकर कार्य करने के लिए मजबूर करना और भेद यानी संबंधित व्यक्ति के गुप्त रहस्योंं का इस्तेमाल करके या उसके हितैषियों के साथ उसका बैर कराकर अपने कार्य के लिए मजबूर करना.)

Related

news 825204046161439063

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item