मायावती दलित नहीं दौलत की बेटी है : अनीता सिद्धार्थ

जौनपुर। पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष अनीता सिद्धार्थ ने प्रेस को जारी की गयी विज्ञप्ति से कहा कि बसपा नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा भाजपा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह और उनकी बेटी को लेकर की गयी अभद्र व आपत्तिजनक टिप्पणी घोर निंदनीय व अस्वीकार्य है।उन्होंने कहा कि बसपा में महिलाओं का सम्मान नहीं है। बसपा सुप्रीमों मायावती पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि यदि मायावती महिलाओं के सम्मान को लेकर गंभीर है तो जिस प्रकार से भाजपा ने दयाशंकर सिंह पर त्वरित कार्यवाही की है उसी प्रकार से मायावती को भी नसीमुद्दीन सिद्दीकी, रामअचल राजभर समेत उन तमाम बसपा नेताओं को पार्टी निष्कासित कर देना चाहिए था। परन्तु इसके विपरीत उन्होंने बदजुबानी करने वाले बसपा नेताओं और कार्यकर्ताओं का समर्थन करके मायावती में सिद्ध कर दिया कि एक महिला होने का बावजूद भी उन्हें महिलाओं की शुचिता और सम्मान की बिलकुल भी परवाह नहीं है।मायावती और उनकी पार्टी ने महिलाओं को शर्मसार और उनकी मर्यादा को तार तार करने का कार्य किया है।जिसका भुगतान उन्हें आने वाले समय में करना ही होगा। मायावती दलित नहीं दौलत की बेटी है और उनका स्वयं को देवी बताना भी दुर्भाग्यपूर्ण और घोर निंदनीय है। उन्होंने कहा कि अब जबकि नसीमुद्दीन सिद्दीकी, रामअचल राजभर समेत अन्य के खिलाफ भी एफ.आई.आर. भी दर्ज हो चुकी है तो जल्द से जल्द इन सभी की गिरफ्तारी कर उचित कार्यवाही की जानी चाहिए। ताकि स्वाति सिंह और उनकी बेटी को न्याय मिल सके।उन्होंने कहा कि यदि बदजुबानी करने वालों नेताओं के खिलाफ उचित कार्यवाही न की गयी तो स्वाति सिंह और उनकी बेटी को न्याय दिलाने हेतु भारी संख्या में महिलाओं के साथ सड़क से लेकर सदन तक जोरदार आंदोलन किया जायेगा।

Related

politics 5075191131891048981

टिप्पणी पोस्ट करें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल



item