स्कूल खुलते ही चहक उठे नन्हे मुन्ने बच्चे, बोले पढ़ेगें लिखेगें, खेलेगें कुदेगें .......

जौनपुर। कक्षा एक से पांच तक  बंद पड़े स्कूलों के आज ताले खुल गए , विद्यालय खुलते ही शिक्षण संस्थानों में रौनक लौट आयी , बच्चे पूरे उत्साह के साथ स्कूल पहुंचकर पढ़ाई लिखाई शुरू कर दी है । 

पढ़ाई के प्रति ग्रामीण इलाके के बच्चो में भी अधिक उत्साह दिखाई पड़ रहा है । जौनपुर मुख्यालय से करीब 30 किलोमीटर की दूर पर स्थित प्राथमिक विद्यालय लखेसर के बच्चे मास्क लगाकर आज पूरे उत्साह के साथ स्कूल पहुंचे , गेट पर टीचरों ने सभी छात्र -छात्राओं को तिलक लगाकर स्वागत किया , क्लास रूम में दाखिल होने से पूर्व सभी का हाथ सैनेटाइज किया गया। 

स्कूल पहुंचे बच्चो ने बताया कि ऑनलाइन पढ़ाई में कुछ समझ नही आ रहा था , अब स्कूल खुल गया है , पढ़ेंगे लिखेंगे , खेलेंगे , कूदेंगे और नाचे गाएंगे । अभिभावकों ने बताया कि स्कूल बंद होने से बच्चो का काफी नुकसान हुआ है ,अब विद्यालय फिर से खुला है अब बच्चो का भविष्य फिर से सवर जाएगा ।

प्राथमिक विद्यालय बरसठी २ में छात्रों का स्वागत शिक्षकों/शिक्षिकाओं ने रोली चंदन एवं छात्रों की आरती उतारते हुए स्वागत किया अपने गुरुओं द्वारा इस तरह का स्वागत देखकर बच्चे अभिभूत हो गये            भारतीय जनता पार्टी (युवा मोर्चा) मछलीशहर जौनपुर के अध्यक्ष अखिल प्रताप सिंह ने कहा कि हालांकि कोरोना के कारण बन्द पड़े हुए स्कूल की पढ़ाई बाधित न हो शिक्षकों ने ई पाठशाला,मुहल्ला क्लास, ह्वाट्सएप ग्रुप के माध्यम से, दूरदर्शन के माध्यम से, रीड एलांग, प्रेरणा साथी बनाकर बच्चों को पढ़ाई अनवरत चलती रहे शिक्षकों ने मेहनत भी बहुत किया फिर भी शिक्षकों से हम आशा करते हैं दुगुने उत्साह के साथ मेहनत करते हुए बच्चों के कोर्स को पूरा करायेगें।     उक्त अवसर पर खण्ड शिक्षा अधिकारी बरसठी  सुरेन्द्र सिंह पटेल, अश्वनी कुमार सिंह प्रधानाध्यापक/जिला संगठन मंत्री जौनपुर, शंकर कुमार, कुमुद सिंह,नगीना देवी,प्रतिमा गिरी,चन्दा देवी उपस्थित रहीं। 

प्राथमिक विद्यालय ताहिरपुर में भौतिक रूप से उपस्थिति के प्रथम दिवस पर बच्चों में अच्छा खासा उत्साह देखने को मिला। बच्चे बहुत ही प्रसन्नचित्त और प्रफुल्लित नजर आए।विद्यालय में घुसने से पहले ही मुख्यद्वार पर शिक्षक व शिक्षिकाओं द्वारा सभी बच्चों का थर्मल स्क्रीनिंग,  हाथों को सेनेटाइज किया जा रहा था। उसके बाद रोली चन्दन लगाकर विद्यालय के द्वार पर प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष व प्रधानाध्यापक अमित सिंह व सभी शिक्षकों ने मास्क देकर बच्चों का स्वागत किया। 
शिक्षकों ने बच्चों को गुलाब का फूल व टॉफी भी दिया। ।विद्यालय के बदले स्वरूप को देखकर बच्चे बहुत ही प्रफुल्लित नजर आए। इस अवसर पर आराधना उपाध्याय ,नेहा जायसवाल ,मंजू जैसवार ,गजाला बानो ,दिनेश यादव, श्यामधर यादव, मनोज कुमार ,माधुरी सिंह, एसएमसी अध्यक्ष विवेक कुमार सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

इंग्लिश मीडियम प्राईमरी स्कूल चकताली विकास क्षेत्र सिरकोनी जनपद के अध्यापकों बच्चों का ज़ोरदार  ढंग से स्वागत किया। सर्व प्रथम हम लोगो ने विद्यालय के बाहरी गेट पर फूलों की रंगोली बनाई तथा अक्षत- रोली और चंदन से उनका स्वगात किया। तदोपरान्त बच्चें विद्यालय में प्रवेश करते ही विद्या की देवी माँ सरस्वती की फूल- माला से वन्दना कर इस नए सत्र को सकुशल सम्पन्न कराने की मंगल कामना किया। कक्षा 5 की छात्रा श्वेता यादव ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत किया। बहुत दिनों के इंतजार के बाद आज बच्चें विद्यालय पहुँचकर अति आनंदित एवम प्रसन्न हुए।    
इस मौके पर प्रधानाध्यापिका उषा सिंह ,विद्यालय में SMC अध्यक्ष रीता देवी, प्रधान पति रविन्द्र यादव, गांव वासी गिरीश चन्द्र शुक्ला, सभी रसोइयां तथा विद्यालय के सभी स्टाफ उपस्थित रहे।
 विद्यालय खोले गए जिस के क्रम में कम्पोजिट विद्यालय सरायत्रिलोकी, बक्सा ,जौनपुर कक्षा 6 से 8 तक के छात्र-छात्राओं का स्वागत शिक्षकों द्वारा रोली चंदन ,अच्छत, माल्यार्पण व पुष्प वर्षा तथा मिष्ठान खिलाकर किया गया बच्चों को कोविड-19 का अनुपालन करने हेतु आवश्यक जानकारी देते हुए सेन्टाइजर का प्रयोग करवाते हुए बच्चों के बीच मास्क का वितरण किया गया। बच्चों के आने से विद्यालय परिवार अपने को बहुत प्रफुल्लित महसूस कर रहा है इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाध्यापक डॉ मनीष कुमार सिंह व सहायक अध्यापक शिवेंद्र सिंह, अनुराग गुप्त, रेखा चौहान, रियाज अहमद, सुनीता देवी, रमेश चंद्र वर्मा, शिक्षामित्र रीना सिंह वह अतुला देवी उपस्थित रहे। विकास खंड मुफ्तीगंज के कंपोजिट विद्यालय कदहरा में करोना वैश्विक महामारी के कम होने के बाद पुनः विद्यालय बच्चों के लिए कोविड प्रोटोकॉल के तहत खुला ।बच्चे विद्यालय को रंग बिरंगे गुब्बारों से सजा देख काफी खुश और  उत्साहित दिखे। विद्यालय में प्रवेश करते समय प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक  सतीश कुमार पाठक द्वारा बच्चों को मास्क वितरित किया गया और सेनेटाइजर द्वारा उनके हाथों को सेनेटाइज किया गया तत्पश्चात बच्चों का माल्यार्पण कर एव रोरी तिलक लगाकर स्वागत भी किया गया।हालांकि सभी बच्चों को विद्यालय आने के लिए नही कहा गया था,वही बच्चें विद्यालय आये जिनके अभिवावकों ने अपनी सहमति दी थी।बच्चों को विद्यालय आने के  लिये विद्यालय की तरफ से मजबूर नही किया गया था।इतने दिनों बाद विद्यालय आने पर विद्यालय प्रांगण के बदले रूप को देखकर बच्चे काफी प्रफुल्लित नजर आए।बताते चले कि लाकडॉउन के दौरान जब स्कूल बंद था तब यहाँ के अध्यापको ने विद्यालय कैम्पस में बहुत से फूल और पौधे लगाये थे जो अब बड़े होकर पूरे विद्यालय प्रांगण को हरा भरा कर दिए।प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक  सतीश पाठक ने कहा कि स्कूल खुलते ही अध्यापको की जिम्मेदारी काफी बढ़ गई है उन्होंने बताया कि वैश्विक महामारी के कारण विद्यालय बंद होने से बच्चों में जो लर्निग गैप हुआ है उसकी भरपाई करने के लिए अध्यापक पूरा प्रयास करेंगे और विश्वास है कि हम सब मिलकर इस विद्यालय को प्रेरक विद्यालय बनायेगे। इस अवसर पर विद्यालय के इंचार्ज प्रधानाध्यापक योगेन्द्र कुमार,सुशीला, नूरजहाँ, शिवसागर, आशा यादव,विंध्यवासिनी यादव,इंदु प्रकाश, नितेश पाठक, साधना,सुनीता,चंदन यादव,राज मौर्या  सन्दीप ,सोनी उपस्थित रहे।

Related

news 4606816477910916845

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item