हाथी छोड़कर साईकिल पर सवार हुई विधायक सुषमा पटेल

जौनपुर। बसपा विधायक सुषमा पटेल ने शनिवार को लखनऊ में सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के समक्ष पार्टी का दामन थाम लिया। इसके पूर्व इनके पति ने भी सपा की सदस्यता ग्रहण की थी। सुषमा की सास व ससुर मड़ियाहूं विधानसभा से विधायक रहे हैं। 

 जौनपुर निवासी प्रकाश चंद पटेल की पुत्री सुषमा पटेल का जन्म तीन मई 1989 को हुआ था। इन्होंने जीव विज्ञान में पीएचडी किया और आइएएस की तैयारी कर रही थीं। इसी दौरान वर्ष 2008 में मड़ियाहूं के विधायक दूधनाथ पटेल एवं सावित्री पटेल के पुत्र रणजीत सिंह पटेल से इनका विवाह हो गया। पति जिला समाज कल्याण अधिकारी पद पर कार्यरत रहे। राजनीतिक परिवार में विवाह होने के कारण सास की प्रेरणा से सुषमा पटेल 2017 में बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर मुंगराबादशाहपुर से चुनाव लड़ीं और भाजपा की तत्कालीन विधायक सीमा द्विवेदी को पराजित कर विधायक चुन ली गईं। 
वर्ष 2020 में बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त होने के आरोप में इन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया। पति रणजीत सिंह पहले ही सरकारी सेवा छोड़कर सपा की सदस्यता ग्रहण कर चुके हैं। सुषमा पटेल मूलरूप से मड़ियाहूं विधानसभा क्षेत्र की साहोपट्टी की रहने वाली हैं। इनके ससुर दूधनाथ पटेल 1985 में लोकदल से व सास सावित्री पटेल 1989 में जनता दल और फिर 1993 में सपा-बसपा गठबंधन से मड़ियाहूं से ही विधायक रह चुकी हैं। आगामी रणनीति के बाबत पूछे जाने पर विधायक सुषमा पटेल ने कहा कि पार्टी का जो निर्देश होगा उसका पालन करूंगी। हालांकि इनके परिवार की राजनीतिक पृष्ठभूमि को देखते हुए मड़ियाहूं में भी सियासत गरमा गई है।

Related

JAUNPUR 3576235383592303062

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item