दीपवाली के दिन मिला एक परिवार का खोया हुआ कुलदीपक, पढ़ियें युवक की पुनः घर वापसी की दिलचस्प कहानी


जौनपुर। दीपावली पर्व इस बार जिले के एक परिवार के लिए खुशियों की सौगात लेकर आयी है। इस परिवार का पांच वर्ष पूर्व खो चुका कुलदीपक वापस लौट आया है। पांच वर्ष बाद अपने कलेजे के टुकड़ा मिलने के बाद परिवार समेत पूरा गांव खुशी से झूम उठा। इस युवक की पुनः घर वापसी में सहायक बना कोविड-19 का वैक्सीन के लिए आयो ओटीपी मैसेज । 

जलालपुर थाना क्षेत्र के शादीपुर गांव निवासी राजकुमार का एकलौता पुत्र आकाश वर्ष 2017 में 16 वर्ष की अवस्था में अचानक घर से लापता हो गया था। आकाश का आधार कार्ड बना हुआ था। मोबाइल नंबर पिता राजकुमार का दर्ज था। पांच वर्ष बीत जाने के बाद राजकुमार अपने इकलौते पुत्र को फिर से पाने की उम्मीद खो चुके थे। चार दिन पूर्व अचानक राजकुमार के मोबाइल पर ओटीपी आकाश के नाम पर आया। राजकुमार ने गांव के कुछ पढ़े-लिखे लोगों को उक्त ओटीपी दिखाया। गांव के लोगों ने बताया कि यह ओटीपी आकाश को कोविड वैक्सीन के लिए आधार कार्ड के अनुसार रजिस्ट्रेशन का है। ओटीपी से वैक्सीन का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन डाउनलोड किया। 
उक्त रजिस्ट्रेशन गुजरात के वलसार थाना क्षेत्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से पंजीकृत किया गया था। राजकुमार पुत्र की तलाश में गुजरात के लिए ट्रेन से रवाना हो गए। वहां पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर उन्होंने आपबीती सुनाई। पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में उक्त थाना क्षेत्र के थानाध्यक्ष की मदद से एक दिन के भीतर आकाश को बरामद कर लिया। बुधवार को दोपहर पिता व पुत्र घर वापस आ गए। आकाश के घर से गायब हो जाने के बारे में पूछे जाने पर कुछ बता नहीं पा रहा है। मां सरिता देवी तथा आकाश की तीन बहने दीपावली में 5 साल बाद आकाश के मिल जाने पर काफी खुश नजर आ रहे हैं।

Related

news 612093465237820542

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item