आशनाई के कारण हुई थी वाहन चालक की हत्या

जौनपुर।  17 नवंबर की रात में मीरगंज थाना क्षेत्र के मीरपुर गांव में वाहन चालक की हुई नृशंस हत्या का पुलिस ने पांच दिन के भीतर राजफाश करते हुए दो आरोपितों को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। हत्या आशनाई के विवाद में हुई थी। पूछताछ के दौरान दोनों ने अपना जुर्म कबूल  कर लिया। पुलिस ने इनमें से एक के खून से सने कपड़े भी बरामद कर लिए हैं।

 मीरगंज के बीड़ी कारोबारी मोहम्मद मोबिन के वाहन चालक सुरेश गौतम (43) की बीते बुधवार को मीरपुर में उस कमरे में सिर कूंचकर हत्या कर दी गई थी, जिसमें वह रहता था। भदोही जिले के सुरियावां थाना क्षेत्र के एकौनी अभोली गांव निवासी सुरेश गौतम का घटनास्थल से चंदकदम की दूरी पर भटहर (उसरैहिया) में ननिहाल था। कमरे से पुलिस को अंग्रेजी व देशी शराब की खाली शीशियां, हत्या में प्रयुक्त चाकू व लकड़ी का चौखट मिला था। मृतक के पुत्र की तहरीर पर पुलिस अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर छानबीन में जुटी थी। 
एसपी अजय कुमार साहनी ने सीओ मछलीशहर अतर सिंह के नेतृत्व में राजफाश के लिए पुलिस टीमें गठित की थी। एएसपी (ग्रामीण) शैलेंद्र कुमार सिंह पुलिस लाइन में पत्रकारों को बताया कि थानाध्यक्ष सुरेश सिंह की टीम ने छानबीन के दौरान प्रकाश में आए दो आरोपितों अविनाश उर्फ नागेंद्र तिवारी व पिटू उर्फ अजय कुमार सिंह निवासी मीरपुर को मुखबिर की सूचना पर जरौना रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया। वारदात को अंजाम देते समय अविनाश तिवारी के कपड़ों में खून लग गए थे। आरोपित की निशानदेही पर उसे कब्जे में लेकर परीक्षण को भेजा जा रहा है। आरोपितों का चालान कर आगे विधिक कार्रवाई की जा रही है।
सुरेश गौतम की दोनों आरोपितों से मित्रता थी। घटना के दिन सुरेश के कमरे में तीनों ने बैठकर शराब पी। इसी दौरान सुरेश ने अविनाश के बड़े भाई पर एक महिला से अवैध संबंध होने का गंभीर लांछन लगाया। उस महिला से सुरेश के भी संबंध थे। इसी को लेकर कहासुनी होने पर दोनों आरोपितों ने सुरेश को चारपाई से बांध दिया। धारदार हथियार व चौखट से मौत के घाट उतार दिया।

Related

crime 3850648599160774861

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item