किमामी, शरबती और रूमाली सेवई से सजेगा दस्तरखान

जौनपुर। ईद उल फितर के त्यौहार को खास बनाने के लिए घरों में सेवइयों की वैरायटी अभी से तैयार होने लगी है । ईद के दिन किमामी, शरबती, रूमाली और सूखी सेवई से दस्तरखान को सजाने की तैयारी है। 

शहर के मीरमस्त मोहल्ला निवासी रुखसाना बानो, नूर खां कुआं निवासी हदीस उन्नीसा, बड़ी मस्जिद मोहल्ला निवासी सबा जैदी ने बताया कि बाजार में सेवई की दर्जन भर रेंज है। किमामी सेवई शीरे में डूबी और गाढ़ी होती है । सूखी सेवई को कढ़ाई में सिर्फ भूनकर हल्के दूध और सूखे मेवे से सजाया जाता है। शरबती सेवई मे खोवा और शीरा के साथ भुना हुआ मेवा डाला जाता है। रुमाली सेवई को दूध में पूरी तरह से डुबोकर ऊपर से खोवा और शक्कर छिड़का जाता है । मेवा सेवई को सभी सेवइयों का खास मेहमान माना जाता है।

Related

जौनपुर 9112043421993698797

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item