आश्वासन के बाद छात्रों ने समाप्त किया प्रदर्शन

 जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय परिसर के विभिन्न संस्थानों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं का पेयजल समेत विभिन्न समस्याओं को लेकर 26 घंटे तक कुलपति कार्यालय के सामने अनशन चला। गुरुवार को दोपहर में कुलपति ने कार्यालय में दो छात्र नेताओं को बुलाकर एक सप्ताह के भीतर सभी समस्याओं के निराकरण का आश्वासन देते हुए प्रदर्शन समाप्त कराया। 

 पूर्वांचल विश्वविद्यालय परिसर के उमानाथ सिंह इंजीनियरिग संस्थान फार्मेसी संस्थान, प्रबंध अध्ययन संकाय, कला संकाय, विज्ञान संकाय, विधि संकाय एवं रज्जू भैया शोध संस्थान के छात्र-छात्राओं ने परिसर व हास्टल में पेयजल, बिजली, पंखा, कूलर, एसी की समस्या को लेकर बुधवार को सुबह 11 बजे कुलपति के पास पहुंचे। जहां छात्रों की समस्या को गंभीरता से नहीं लिया गया। इससे नाराज छात्रों ने कुलपति कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए। साथ ही विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते क्रमिक अनशन शुरू कर दिया। शाम पांच बजे के करीब कुछ शिक्षक छात्रों से मिलने पहुंचे और खामियों को दूर करने की बजाय छात्रों को ही कसूरवार मानने लगे। जिससे बात बनने की बजाय बिगड़ गई। छात्र-छात्राएं पूरी रात अनशन पर बैठे रहीं। गुरुवार को दोपहर करीब एक बजे कुलपति प्रोफेसर निर्मला एस मौर्या ने छात्रनेता व धरने का नेतृत्व कर रहे उद्देश सिंह व प्रिस त्रिपाठी से बातचीत की। उन्होंने कहा कि परिसर के सभी संस्थान के हेड व डीन को इन समस्याओं को दूर करने के लिए तत्काल दो-दो लाख रुपये निर्गत करा दिया गया है। एक सप्ताह के भीतर छात्रों के हास्टल संस्थान में जो भी दिक्कत होगी उसे दूर कर दिया जाएगा।

Related

news 2621968650604542675

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item