बुधवार की रात बुलडोजर ने अतिक्रमणकारियों को दिया फूल डोज

जौनपुर। बुधवार देर रात शहर में एक बार फिर से जिला प्रशासन का बुलडोजर गरजा तो अपना फूल डोज देते हुए  शहर के सबसे व्यस्ततम इलाके जेसीज चौराहे से लेकर ओलंदगंज तक  को अतिक्रमण से मुक्त कर दिया। इस रोड पर  बीते रविवार को भी बुलडोजर चला था। तब जिला प्रशासन ने कुछ लोगों को चेतावनी देकर छोड़ दिया था। तय समय में अतिक्रमण नहीं हटा तो बुधवार रात प्रशासन ने बुलडोजर चलवाकर अतिक्रमण की जद में आने वाले मकानों की सीढ़ी, बारजा, टीनशेड और दीवार आदि को तोड़ दिया। इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस की तैनाती भी रही। रात 10 बजे शुरू हुई कार्रवाई करीब डेढ़ बजे तक चली। 

दरअसल, सवा तीन लाख आबादी वाला शहर हर समय जाम से जकड़ा रहता है। जेसीज चौराहे से ओलंदगंज तक सड़क की पटरियों पर लोगों की ओर से कब्जा किया गया है। जिसके कारण लोग वाहनों को आड़े तिरछे खड़ाकर सामान खरीदने चले जाते हैं, जिससे जाम लगता है। शहर को सुंदर बनाने के लिए और जाम से मुक्ति दिलाने के लिए जिला प्रशासन शहर के सबसे व्यस्ततम इलाके को अतिक्रमण से मुक्त करा रहा है। इसके लिए एक के बाद एक रूट को चिन्हित किया गया है। कुछ दिनों पहले जिला प्रशासन ने शहर में घोषणा कराई थी कि अतिक्रमणकारी अपना-अपना अतिक्रमण हटा लें। अन्यथा अगर जिला प्रशासन कब्जा हटाएगा तो मौके से सामान को अपने कब्जे में ले लेगा और अतिक्रमण हटाने में आने वाले खर्चे को भी अतिक्रमणकारियों से वसूलेगा। प्रशासन की ओर से मापी कर अतिक्रमण की जद में आने वाले स्थानों को चिह्नित कर लिया गया था। साथ ही 51 अतिक्रमणकर्ताओं को नोटिस भी दिया गया था लेकिन कई अतिक्रमणकर्ताओं ने अतिक्रमण नहीं हटाया। 
 प्रशासन ने जेसीज चौराहे से लेकर ओलंदगंज तक सड़क के दोनों तरफ लाल निशान लगा दिया था। बीते रविवार को अतिक्रमण को ढहवाने के लिए ज्वाइंट मजिस्ट्रेट हिमांशु नागपाल तीन बुलडोजर लेकर पहुंचे थे। सड़क की दोनों पटरियों पर अतिक्रमण को हटाया गया था। इस दौरान दस बड़े व्यापारियों ने दो दिन का समय मांगा था। जिसके बाद वे बिजली के तार को हटा लिए, लेकिन अतिक्रमण नहीं हटा।जिसपर जिला प्रशासन ने बुधवार रात साढ़े दस से लेकर रात एक बजे तक बुलडोजर से अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया। इस दौरान लेखपाल द्वारा नापी की गई और सड़क की दोनों पटरियों पर 11-11 मीटर तक कब्जा मुक्त कराया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद थी। जहां कहीं भी किसी व्यक्ति को आपत्ति होती लेखपाल द्वारा तुरंत संबंधित दस्तावेज दिखाते नजर आए।

Related

जौनपुर 5173805472529343928

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item