परीक्षा विभाग की लापरवाही से पांच जिलों के परीक्षार्थियों को होना पड़ा हलाकान

 जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग की लापरवाही से पांच जिलों के परीक्षार्थियों को परेशान होना पड़ा। बुधवार को प्रथम पाली में स्नातक प्रथम सेमेस्टर चित्रकला की परीक्षा होनी थी। छात्र परीक्षा केंद्र पर पहुंच चुके थे। इस दौरान कालेज संचालक प्रश्नपत्र लेने के लिए जब नोडल केंद्र पर गए तो पता चला कि विश्वविद्यालय प्रशासन ने नोडल केंद्रों पर प्रश्न पत्र ही नहीं भेजा है। ऐसे में परीक्षार्थियों को परीक्षा दिए बिना वापस लौटना पड़ा। विश्वविद्यालय से संबद्ध आजमगढ़, मऊ, गाजीपुर, जौनपुर व हंडिया (प्रयागराज) के महाविद्यालयों में स्नातक प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा का बुधवार को अंतिम दिन था। प्रथम पाली में चित्रकला विषय की परीक्षा थी, जिसके लिए संबंधित परीक्षा केंद्रों पर विद्यार्थी पहुंच चुके थे। 

केंद्र संचालक प्रश्नपत्र लेने के लिए जब नोडल केंद्रों पर पहुंचे तो पूरे मामले की जानकारी हुई। पता चला कि चित्रकला का प्रश्नपत्र ही विश्वविद्यालय से नहीं आया है। इस मामले में परीक्षा नियंत्रक बीएन सिंह ने एक अप्रैल को पत्र जारी करते हुए केंद्राध्यक्ष व प्राचार्य को अवगत कराया था कि 16 मार्च को जारी बीए प्रथम सेमेस्टर के परीक्षा कार्यक्रम में चित्रकला विषय की परीक्षा जो 13 अप्रैल को होनी है उसका कोर्स कोड त्रुटि से बदल गया है। जिसे सुधार कर (ए-21010 टी) कर दिया गया है।

 बावजूद इसके नोडल केंद्रों पर संशोधित कोर्स का प्रश्नपत्र विश्वविद्यालय की तरफ से नहीं पहुंचाए गए। गाजीपुर भुड़कुड़ा नोडल केंद्र पर बुधवार को जब केंद्र संचालक प्रश्नपत्र लेने के लिए पहुंचे तो मामले की जानकारी हुई। इसके बाद परीक्षा केंद्रों से छात्रों को विश्वविद्यालय की तरफ से अग्रिम आदेश तक के लिए बिना परीक्षा दिए लौटा दिया गया है। गलतफहमी के चलते चित्रकला (फाइन आर्ट) विषय की परीक्षा नहीं हो सकी है। जिसके लिए बाद में तिथि निर्धारित की जाएगी। परीक्षा नियंत्रक बीएन सिंह ने कहा कि छात्रों का किसी भी तरह का कोई नुकसान नहीं होने दिया जाएगा। 

Related

news 238387291958072292

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item