गांवों में बरसात से पहले की तैयारियां जोरों पर

 

जौनपुर। ग्रामीण इलाकों में बरसात आने से पूर्व किसान पूरे परिवार के साथ वर्षा पूर्व की तैयारियों में जुट गए हैं।जिन लोगों के मकान खपरैल के हैं वे अपने घरों की मरम्मत कार्य में जुटे हुए हैं। कच्ची दीवारों पर लोग गोबर और मिट्टी मिलाकर दीवारों पर लेपन का कार्य कर रहे हैं। छप्परों की छवाई का कार्य भी जोरों पर है लोग बांस,सरपत और गन्ने के सूखे पत्तों,अरहर के डण्ठल से यह कार्य पूरा कर रहे हैं।

घर गृहिणियां अचार,खटाई,सिरका बनाने में व्यस्त हैं।जिन क्षेत्रों में अरहर की पैदावार आज भी होती है वहां औरतें अरहर की दाल बना रहीं हैं। इस सम्बन्ध में गांव बामी की गृहणी पुष्पा सिंह कहती हैं कि  अचार खटाई सिरके का कार्य बरसात से पहले पूरा हो जाना चाहिए क्योंकि इन्हें बरसात के पहले कई दिनों तक धूप दिखाने की जरूरत होती है। अगर ऐसा न किया गया तो अचार खटाई में फफूंद लग जाती है।

 आपको बताते चलें कि जनपद जौनपुर के युवाओं की एक बड़ी तादाद गुजरात महाराष्ट्र में रहकर कमाई करती है। शादी विवाह के चलते ज्यादातर प्रवासी ग्रामीण इलाकों में अप्रैल मई महीने में घर आते हैं और अपने कच्चे -पक्के मकानों की मरम्मत और नव निर्माण कार्य भी करवाते हैं जिसके चलते राजमिस्त्रियों की मांग बढ़ जाती है। बिल्डिंग मटेरियल के दाम भी इस समय आसमान छू रहे हैं। खेती के कार्यों में धान की नर्सरी डालने का कार्य जोरों पर चल रहा है। किसान अपने घरों पर तैयार जैविक खाद को भी खेत में ले जाकर डाल रहे हैं।

Related

javascript:void(0); 2568886715474723589

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item