करुण क्रंदन से पूरे गांव का माहौल हुआ बोझिल

 जौनपुर।  दर्शन-पूजन को रविवार को परिवार के साथ विंध्याचल गए सगे भाई-बहन की गंगा में स्नान के दौरान डूबने से मौत की खबर आते ही मछलीशहर कोतवाली क्षेत्र के कोहड़ा गांव में कोहराम मच गया। परिजनों व संबंधियों के करुण क्रंदन से पूरे गांव का माहौल बोझिल हो गया है। कई घरों में चूल्हे नहीं जले। पीड़ित परिवार दो दिन पूर्व ही मुंबई से गृह गांव आया था।  

 उक्त गांव निवासी दिलीप तिवारी रोजी-रोटी कमाने की गरज से सपरिवार मुंबई रहते हैं। वहां निजी व्यवसाय करने वाले दिलीप तिवारी कई वर्षों बाद दो दिन पूर्व परिवार के साथ घर आए थे। पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि मां विध्यवासिनी के दर्शन-पूजन की इच्छा होने पर परिवार के 18 सदस्य दो बोलेरो से सुबह विध्याचल गए थे। दर्शन से पूर्व वहां परशुराम घाट पर गंगा स्नान के दौरान दिलीप तिवारी की तीन संतानों में ज्येष्ठ पुत्र 16 वर्षीय ऋषि तिवारी व 13 वर्षीय पुत्री खुशी डूबने लगी। स्वजन ने बचाने का प्रयास किया, कितु नाकाम रहे। गोताखोरों ने काफी प्रयास के बाद दोनों को निकाला। अस्पताल में दोनों को डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। कई सगे-संबंधी रोते-बिलखते मीरजापुर रवाना हो गए।

Related

news 7758936422798955041

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item