धूल भरी आंधी व बूंदाबांदी से तापमान में आयी गिरावट

 

जौनपुर । पिछले काफी दिनों से तेज धूप व उमसभरी गर्मी के बीच सोमवार को तीसरे पहर तेज धूल भरी आंधी व बूंदाबांदी से तापमान में काफी गिरावट आई। इससे लोगों को राहत तो मिली लेकिन जगह-जगह पेड़ व बिजली के खंभों के गिरने से बिजली आपूर्ति व आवागमन बाधित रहा। एकाएक बदले मौसम से अधिकतम तापमान 36 तो न्यूनतम 24 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 

बीते कई दिनों से तेज धूप व गर्मी से जन जीवन बेहाल था। मौसम विभाग की ओर से तेज हवा के साथ छिटपुट बारिश की संभावना जताई जा रही थी, जो सही साबित हुई। खुशनुमा हुए मौसम के बीच लोग बाहर निकल बदले मौसम का आनंद भी उठाया। हालांकि तमाम स्थानों पर राहत के साथ आफत भी हुई। सरपतहां में तेज आंधी व पानी से विभिन्न स्थानों पर दर्जनों बिजली के खंभे धराशाई हो गए। इसके चलते विद्युतापूर्ति व्यवस्था पूरी तरह ठप हो गई। अवर अभियंता अरविद पटेल ने बताया कि सवायन, गंगौली, एकडला, रामनगर, समोधपुर आदि गांवों में दर्जनों की संख्या में बिजली के पोल गिरे हैं। समोधपुर में जहां आधा दर्जन के करीब पोल गिरे हैं वहीं रामनगर चौराहे पर एक पोल टूट कर गिर गया है। बताया कि आपूर्ति व्यवस्था को बहाल करने के लिए युद्धस्तर पर लाइनमैनों को लगाया गया। मछलीशहर में कुछ लोगों के छप्पर तो कुछ के टीनशेड हवा में उड़ गए। इससे सबसे अधिक आम की फसल को नुकसान हुआ है। गौराबादशाहपुर में आंधी की वजह से जौनपुर-आजमगढ़ मार्ग पर चोरसंड गांव के पास सड़क पर पेड़ गिर पड़ा। गनीमत रही कि उस दौरान कोई वाहन वहां से नहीं गुजर रहा था। पेड़ गिरने की वजह से आवागमन कुछ देर के लिए अवरुद्ध रहा। बदलापुर में बूंदाबादी के चलते बिजली आपूर्ति ठप रही।

Related

डाक्टर 5746047938790436800

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item