छोटी गलतिया भी हार्ट अटैक का बन रहा है कारण: उत्पल कुमार

 यूसुफ खान 

खेतासराय(जौनपुर) हार्ट अटैक केवल कोलेस्ट्रॉल, हाई बीपी या दिल से जुड़ी बीमारियों से नही बल्कि कुछ गलतियों के कारण भी खतरा बढ़ रहा है। वही जिन महिलाओं को सीने में दर्द नही होती है, उनमें दिल का ख़तरा और भी अधिक होता है। यह बातें रविवार की शाम नगर के अल्ज़फर ट्रामा सेंटर में वाराणसी के अपेक्स होसिप्टल के कार्डियोलॉजिस्ट उत्पल कुमार ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कही।

 उन्होंने कहा कि दिल को अच्छा रखने के लिए मेहनत तो जरूरी है, लेकिन अत्यधिक मेहनत हार्ट फ़ेल का कारण बन रही है।अत्यधिक ठण्डे तापमान या बहुत ही अधिक ठण्डे पानी को अचानक से सिर पर डालकर नहाने से हार्ट अटैक का ख़तरा रहता है। नींद की कमी,मोटापा बीपी, डिप्रेशन के साथ ही हार्ट अटैक के खतरे भी जुड़ी है। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि बहुत अधिक मात्रा में हमेशा खाना खाने की आदत नारपेनेफ्रिन का लेवल बढ़ जाता है, जो हृदय गति और रक्तचाप बढ़ाने के लिए जिम्मेदार हार्मोन्स है। 

 महिलाओं पर हार्ट अटैक के बाबत कहा कि अमूमन सीने में दर्द होने पर ही लोग ट्रिगर मानते है। लेकिन ऐसा नही है बॉडी के अन्य बीमारी की वजह से भी जाँच में पता चलने के बाद बाईपास सर्जरी करनी पड़ी। चेस्ट में दर्द न होने पर दिल का ख़तरा और भी अधिक होता है। डॉक्टर को भी आभास नही हो पाता है। देरी के कारण मरीजों की जान भी चली गई। युवा उम्र में भी 35 से 54 वर्ष की महिलाओं में भी हाई ब्लड प्रेशर और मोटापे के कारण दिल के दौरे का ख़तरा बढ़ा है।

Related

news 8839239329830934218

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item