अस्पताल पहुंचा वेंटिलेटर पर, काप रहे है डॉक्टर और मरीज

जौनपुर। एक तरफ योगी सरकार पढ़ाई और दवाई पर विशेष बल दे रही है, अस्पतालों में मरीजों का बेहतर तरीके से मुफ्त में इलाज हो इस पर अधिक बल दिया जा रहा है , लेकिन जौनपुर में एक अस्पताल ऐसा है जो खुद वेंटिलेटर पर पहुंच गया है , इस चिकित्सालय के डॉक्टर और स्टाफ अपनी जान जोखिम में डालकर ड्यूटी कर रहे है। मरीज तो यहाँ आने से डरते है ।

जौनपुर -प्रयागराज मार्ग पर गहनी गांव में खड़हर तब्दील हो चुकी यह भवन अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का है, सरकार की मंशा थी कि  ग्रामीण इलाके के मरीजों का इलाज उनके गांव में हो सके लेकिन विभागीय लापरवाही के चलते इस अस्पताल में मरीजों का इलाज होना दूर की बात यह खुद बीमार हो गया है। पूरी विल्ड़िंग जर्जर हो गई है , छतों से पानी टपक रहा है , पूरे परिसर में बारिश का पानी भर गया है झाड़ियां उग आयीं है, यहाँ आने वाले अच्छे खासे लोग खुद संक्रमण की चपेट में आ जायेंगे ।

अस्पताल में तैनात डॉक्टर और स्टाफ खुद अपनी जान की सुरक्षा को लेकर चिंतित रहते है । चिकित्सक ने बताया कि अस्पताल का भवन काफी दिनों से जर्जर हो गया है इसके बारे में लिखित शिकायत विभाग को भेजा गया है लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नही हुई है । विभाग द्वारा बताया गया कि यह भवन पूरी तरह से जर्जर हो गई है इसका मरम्मत नही बल्कि ध्वस्त करके पुनः नया निर्माण कराया जायेगा ।

इस चिकित्सालय में इलाज करने के लिए आने वाले मरीज अस्पताल की हालत देखते ही उनका बीपी बढ़ जाता है। स्थानीय नागरिक अस्पताल की बदहाली की कहानी फर्राटे से बताते है,ग्रमीणों ने अस्पताल के एक एक कोने भयवाह जानकारी देते हुए खुद काप जाते है। 

Related

जौनपुर 903698403157654394

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item