भारी गहमागहमी के बीच रामपुर ब्लाक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित

 जौनपुर। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच भारी गहमागहमी के माहौल में रामपुर ब्लाक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास पारित हो गया। इस अविश्वास प्रस्ताव बैठक में 99 बीडीसी सदस्यों में से 55 सदस्यों ने भाग लिया। फ्लोर टेस्टिंग में 52 सदस्यो ने अविश्वास के पक्ष में वोट डाला, एक ब्लाक प्रमुख के पक्ष मे तथा दो वोट निरस्त हो गया। पूरी प्रक्रिया नोडल अधिकारी सीडीओं की देख रेख में हुआ।

रामपुर ब्लाक प्रमुख नीलम सिंह के खिलाफ बीडीसी राहुल सिंह ने अविश्वास प्रस्ताव लाया था। इस ब्लाक में 99 बीडीसी निर्वाचित हुए हैं।  शनिवार को ब्लाक प्रमुख के खिलाफ शक्ति प्रदर्शन कराया गया। अविश्वास प्रस्ताव बैठक में भाग लेने के लिए  कुल 55 बीडीसी पहुंचे थे,कोरम पूरा करने के लिए नोडल अधिकारी ने सभी बीडीसी से अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में हाथ उठाने की बात कही। जिसके बाद 52 लोगों ने अविश्वास प्रस्ताव लाने के पक्ष में अपनी सहमति दिया। सहमति होते ही अविश्वास प्रस्ताव का कोरम पूरा हुआ। कोरम पूरा होने के बाद अधिकारियों ने बीडीसी सदस्यों से वोटिंग कराया। जिसमें 52 लोगों ने अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में वोट दिया। अविश्वास प्रस्ताव पारित होते ही राहुल सिंह के खेमे में जश्न का माहौल पैदा हो गया। राहुल सिंह ने कहा कि आज लोकतंत्र की जीत हुई है शीघ्र ही प्रमुख पद के लिए मतदान कराया जाएगा। 

 ब्लाक पर अविश्वास प्रस्ताव को लेकर पूरे दिन गहमागहमी का माहौल रहा। पूरा ब्लाक परिसर पुलिस छावनी में तब्दील रहा। प्रशासन ने रामपुर से लेकर जमालापुर तक एन एच हाईवे 135 को बंद कर दिया था। ब्लाक परिसर के आसपास 200 मीटर दूर तक दोनों तरफ किसी भी व्यक्ति का प्रवेश वर्जित कर दिया गया था। जो भी अंदर घुसने का प्रयास किया पुलिसकर्मियों ने खदेड़ दिया। 

दोपहर 12 बजे बीडीसी राहुल सिंह अपने बीडीसी के साथ पहुंचकर परिसर में प्रवेश करना चाहा तो पुलिसकर्मियों ने रोक दिया, तहसीलदार राम सुधार ने एक एक बीडीसी का निर्वाचन प्रमाण पत्र एवं आधार कार्ड से मिलान कर मतदान कक्ष तक भेजने का कार्य किया।

सुरक्षा की दृष्टिकोण से ब्लॉक परिसर के मुख्य गेट पर एडिशनल एसपी शैलेंद्र कुमार सिंह, क्षेत्राधिकारी शुभम तोदी, क्षेत्राधिकारी अशोक कुमार सिंह, पांच थानों के थानाध्यक्ष एवं सैकड़ों पुलिसकर्मी और एक प्लाटून पीएसी मौके पर तैनात रही।

अविश्वास प्रस्ताव आने के बाद वर्तमान ब्लाक प्रमुख नीलम सिंह के प्रतिनिधि विपिन सिंह ने कहा कि आज लोकतंत्र की हत्या हुई है महीनों से बीडीसी को अपने कैद में रखकर उनसे जबरदस्ती वोट डलवाया है। अगर जनता के द्वारा यह मतदान होता तो मैं अपने पद पर बना रहता। लेकिन आने वाले दिनों में पुनः मतदान से मेरी माता ब्लाक प्रमुख बनेगी। 

  अविश्वास प्रस्ताव के शक्ति प्रदर्शन में भाग लेने के लिए बीडीसी को प्रशासन द्वारा कक्ष तक भेजा जा रहा था। उसी दौरान 1 बजे  पूर्व प्रमुख व बीडीसी नंदनी जायसवाल स्कॉर्पियो से अविश्वास प्रस्ताव के शक्ति प्रदर्शन में शामिल होने के लिए आ रही थी। आरोप है कि वह जैसे ही पेट्रोल पंप के पास पहुंची अराजक तत्वों ने उनकी गाड़ी को रोक लिया लेकिन ड्राइवर स्थिति को भांपते हुए गाड़ी को तेजी से आगे बढ़ा दिया। जिसके बाद अराजक तत्वों ने उनकी गाड़ी पर पथराव कर दिया। 

 एसपी देहात शैलेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि बीडीसी नंदनी जायसवाल अविश्वास प्रस्ताव किस शक्ति प्रदर्शन में भाग लेने आ रही थी उनके ऊपर कुछ अराजक तत्वों ने पत्थरबाजी किया है लेकिन उन्होंने कोई भी कार्रवाई करने से इंकार कर दिया है। अगर तहरीर मिलती है तो मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच करवाई जाएगी।

Related

जौनपुर 6824933647033124367

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item