पावन बिजेथुआ धाम में उमड़ा भक्तों का सैलाब, लगा जयकारा

 सुइथाकला, जौनपुर। स्थानीय विकास खण्ड क्षेत्र की सीमा पर सुलतानपुर जनपद में स्थित पारम्परिक मान्यताओं की पृष्ठभूमि को जीवंत रूप प्रदान करने वाला पावन विजेथुआ धाम मंगल मूरति मारुति नंदन बजरंग बली के जयकारों से गुंजायमान हो उठा। श्रद्धा, भक्ति और प्रेम से आप्लावित भक्तजन भारी संख्या में हनुमान जी के दर्शन-पूजन हेतु एकत्रित हुये। वैसे तो पावन धाम की महिमा के अनुरूप वर्ष पर्यंत मंगलवार और शनिवार को हजारों की संख्या में भक्तजन यहां दर्शन पूजन हेतु आते हैं और मनोवांछित सिद्धि प्राप्त करते हैं लेकिन प्रतिवर्ष नागपंचमी पर्व के उपरांत आने वाला मंगलवार बड़का मंगल के नाम से विख्यात है। इस दिन दूर-दराज से भारी संख्या में भक्तजन यहां पहुंचते हैं। 

धार्मिक कथाओं के संदर्भ में ऐसा कहा जाता है कि त्रेतायुग में लंका विजय के समय लक्ष्मण मेघनाथ युद्ध में जब इंद्रजीत वीरघातिनी शक्ति का संधान करके लक्ष्मण को मूर्छित कर देता है और शेषावतार लक्ष्मण के प्राण संकट में पड़ गये तब लंका के राजवैद्य सुखेन द्वारा बताये गये उपचार के अनुसार लक्ष्मण के प्राणों की रक्षा हेतु अंजनी पुत्र हनुमान संजीवनी लाने के लिये जाते हैं तो लंकाधिपति रावण के आदेश से कालनेमि इसी पावन स्थल पर बजरंग बली को रोकने की माया रचता है। कालनेमि की माया के चक्रव्यूह में फंसकर पावन धाम में स्थित मकड़ी कुंड में जैसे ही हनुमान जी अपनी प्यास बुझाने पहुंचते हैं, सरोवर में स्थित श्रापित मकड़ी व्याकुल हो जाती है।
 हनुमान जी को कालनेमि की माया का ज्ञान कराती हुई कहती है तो मकड़ी के वचनों को सुनकर पवनसुत मायावी कालनेमि की माया जान जाते हैं और उसका संहार करते हैं। इसके बाद संजीवनी औषधि लाकर लक्ष्मण के प्राणों की रक्षा करते हैं। उसी अनुक्रम में इस पावन स्थल पर प्रत्येक मंगलवार और शनिवार को भक्तजन भारी संख्या में दर्शन पूजन हेतु यहां आते हैं। भक्तों की भारी भीड़ को देखते हुये मेला क्षेत्र में सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किये गये हैं। मेला क्षेत्र से तीन किलोमीटर पहले ही सभी वाहनों का प्रवेश रोक दिया गया है तथा भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किये गये हैं। वहीं दूसरी ओर सीमा से लगे रहने के कारण थानाध्यक्ष संजय सिंह के निर्देशन में उपनिरीक्षक धुरेन्धर प्रसाद भी सक्रियता से चौकसी बनाते देखे गये।

Related

जौनपुर 5751219353672509260

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item