ट्रेनों के ठहराव को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म, सोशल मीडिया पर पोस्टर वार जारी

केराकत, जौनपुर। ट्रेनों के ठहराव को लेकर उस समय केराकत व डोभी की जनता के बीच सोशल मीडिया पर सियासत तेज हो गई जब गुरुवार को केराकत डाक बंगले पर पहुंचकर जनशिकायत की सुनवाई कर रहे मछलीशहर सांसद बीपी सरोज की खबर अखबारों में छपी कि केराकत रेलवे स्टेशन पर प्रमुख ट्रेनों का ठहराव जल्द होगा। खबर प्रकाशित होते ही सोशल मीडिया पर सियासत तेज हो गयी। एक तरफ केराकत रेवले संघर्ष समिति ने सोशल मीडिया पर पोस्टर जारी करके 22 सितम्बर को भारी संख्या में केराकत रेलवे स्टेशन पर पहुंच आमरण अनशन को सफल बनाने की अपील किया तो वहीं समाजसेवी अजीत सिंह डोभी की जनता से मिशन रेलवे स्टेशन का पोस्टर जारी कर सोशल मीडिया के माध्यम से समर्थन की अपील कर रहे हैं। अब देखना दिलचस्प होगा कि सांसद द्वारा प्रमुख ट्रेनों का ठहराव केराकत रेलवे स्टेशन को होगा या डोभी रेलवे स्टेशन को या चुनावी घोषणा बनकर रह जायेगा। इस संदर्भ में जब सांसद बीपी सरोज ने टेलीफोनिक वार्ता कर जानने का प्रयास किया गया तो उन्होंने बताया कि जनता ने मुझे ट्रेनों के ठहराव के लिए पत्रक दिया जिसे संज्ञान में लेते हुए रेलमंत्री से मिलकर पत्रक सौंपते हुये उन्हें अवगत करा दिया गया है। 3 सितम्बर को डीआरएम की बैठक है जिसमें फैसला होगा कि कहां ट्रेनों का ठहराव किया जायेगा? यह कहकर सांसद जी ने फोन डिस्कनेक्ट कर दिया।


ट्रेनों के ठहराव को लेकर सांसद भ्रम पैदा कर रहेः अजीत

सोशल मीडिया पर पोस्टर वार को लेकर समाजसेवी अजीत सिंह ने बताया कि ट्रेनों के ठहराव व आरक्षण टिकट को लेकर पिछले दो सालों लड़ाई लड़ी जा रही है। 4 महीनों की कड़ी मेहनत कर लगभग हजारों लोगों के हस्ताक्षर करके रेलमंत्री को सम्बोधित पत्रक पूर्व जिलाधिकारी दिनेश सिंह व सांसद को सौंपा गया था। तत्पश्चात सांसद ने रेलमंत्री से मिलकर डोभी रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों के ठहराव से अवगत कराते हुये पत्रक सौंप कर रेलमंत्री के साथ खींची गयी फोटो व पत्रक सोशल मीडिया पर वायरल भी किया थ। बावजूद इसके केराकत रेलवे स्टेशन पर प्रमुख ट्रेनों के ठहराव की बात करना कितना सही है जबकि औड़िहार और डोभी रेलवे स्टेशन की दूरी 23 किलोमीटर है। मुझे केराकत रेलवे स्टेशन पर ट्रेन रुके, इससे मुझे एतराज नहीं है परंतु सांसद जी केराकत और डोभी की जनता के बीच जो भ्रम पैदा कर रहे हैं, वह गलत है। सांसद जी ट्रेनों के ठहराव का मुद्दा आगे ले जाना चाहते हैं। मुझे लगता है कि डोभी व केराकत की जनता को लालीपाप दे रहे हैं। ट्रेनों के ठहराव को लेकर आज मैं स्वयं दिल्ली जा रहा हूं। दिल्ली पहुंच शीर्ष नेतृव को पत्रक दूंगा।

Related

जौनपुर 1183793184282871568

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item