जिलाधिकारी के साथ ही सीएमओ, डीआईओ और सीएमएस ने भी बच्चों को पिलाई खुराक

 

जौनपुर । जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने बुधवार को जिला महिला अस्पताल में विकास मौर्या के नौ माह के बेटे सत्यम मौर्या को विटामिन-ए की खुराक पिलाकर ‘बाल स्वास्थ्य पोषण माह’ की शुरुआत की। इसके अलावा सतीश गुप्ता की डेढ़ वर्ष की बेटी ममता सहित कई अन्य बच्चों को भी खुराक पिलाई गई।

              जिलाधिकारी के साथ ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ लक्ष्मी सिंह, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी (डीआईओ) डॉ नरेन्द्र सिंह, जिला महिला अस्पताल की मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) डॉ तवस्सुम बानो ने भी नौ माह से पाँच वर्ष तक के बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाई।
             सीएमओ डॉ0 लक्ष्मी सिंह ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार श्विटामिन ए संपूरण’ कार्यक्रम के तहत बाल स्वास्थ्य पोषण माह साल में दो बार चलाया जाता है। अभियान का पहला चरण अगस्त में चलाया जा रहा है। इसमें नौ माह से पाँच साल तक के बच्चों को कई तरह की बीमारियों से बचाने के लिए इस अभियान के तहत विटामिन दृए व आयरन सीरप से लाभान्वित किया जाएगा। अभियान के सफलतापूर्वक संचालन के लिए स्वास्थ्य व आईसीडीएस विभाग के कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है जिससे वह ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण दिवस (वीएचएसएनडी) व शहरी स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण दिवस (यूएचएसएनडी) सत्रों में नौ माह से पाँच वर्ष तक के बच्चों को निर्धारित मात्रा में विटामिन ए की खुराक पिला सकें और उसका सही ढंग से अनुसरण कर सकें ।
            सीएमओ ने कहा कि कोविड अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है तो इसको देखते हुये हर बच्चे के लिए अलग-अलग चम्मचों से ही विटामिन दृ ए का सेवन कराया जा रहा है। साथ ही सेशन साईट पर हाथ धोने के लिए एक कॉर्नर स्थापित किया गया है। सेशन साईट पर दो गज दूरी व भीड़ न होने पाए, इसका विशेष रूप से ख्याल रखा जा रहा है।
            नोडल अधिकारी और जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ नरेन्द्र सिंह ने बताया कि अभियान का मुख्य उद्देश्य जनपद में नौ माह से पाँच वर्ष तक के 4,85,532 बच्चों को विटामिन दृ ए की खुराक से आच्छादित करना है। इसके सापेक्ष बुधवार को लगभग 62 हजार बच्चों को खुराक पिलाई गई। बुधवार और शनिवार को चलने वाले 422 टीकाकरण सत्रों के माध्यम से इस लक्ष्य को पूरा किया जाएगा। इसके लिए जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों (सीएचसी) पर 12,500 विटामिन-ए की बोतलें पहुंचा दी गई हैं। इसके तहत छह-छह माह पर नौ माह से पांच वर्ष तक की उम्र के बच्चों को कुल नौ बार विटामिन-ए की खुराक पिलाई जाएगी। साथ ही सात माह से पाँच वर्ष तक के बच्चों को आयरन सीरप पिलाना, बच्चों का वजन लेना, एक घंटे के अंदर और छह माह तक सिर्फ स्तनपान को लेकर जन जागरूकता, गर्भवती को आयोडीन युक्त की नमक के सेवन के प्रति जागरूक किया जा रहा है। बच्चों के नियमित टीकाकरण पर भी जोर दिया जा रहा है। अतिकुपोषित बच्चों और गंभीर रूप से बीमार बच्चों को आयरन सीरप नहीं पिलाना है।  
                    डॉ सिंह ने बताया कि अभियान में वीएचएसएनडी व यूएचएसएनडी सत्रों के दौरान बच्चों को अलग-अलग चम्मचों से विटामिन-ए खुराक पिलायी जाएगी। इसके साथ ही कोविड-19 से बचाव एवं रोकथाम के नियमों का आवश्यक रूप से पालन कराया जाएगा।
             इस अवसर पर सिक न्यू बार्न चाइल्ड केयर यूनिट (एसएनसीयू) के नोडल अधिकारी डॉ संदीप सिंह, संयुक्त राष्ट्र बाल आपातकोष (यूनीसेफ) की डिस्ट्रिक्ट मोबलाइजेशन कोआर्डिनेटर गुरदीप कौर और बलवंत सिंह, यूनाइटेड नेशंस डेवलपमेंट प्रोग्राम (यूएनडीपी) के वैक्सीन कोल्ड चेन मैनेजर (वीसीसीएम) शेख अबजाद सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

Related

जौनपुर 4815833058420837417

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item