मुलायम सिंह यादव ने दी थी जौनपुर की जनता को यह बड़ी सौगात

 

जौनपुर। सपा मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के निधन से जिले में शोक की लहर दौड़ पड़ी, समाजवादी पार्टी समेत सभी राजनीतिक पार्टियों के नेता कार्यकर्ता दुखी है। नेताजी का जिले से गहरा लगाव था , उन्होंने ने नगर की जनता को जाम के झाम से निजात दिलाने के लिए शहर के बीच से बहने वाली आदि गंगा गोमती नदी पर सद्भावना पुल की सौगात दिया था , उनके निर्देश पर अखिलेश यादव ने यहां मेडिकल कालेज का बड़ा तोहफा दिया। इसके अलावा आश्रम पद्धति स्कूल समेत कई कालेजो की स्थापना हुआ , जनता को सुबह शाम टहलने के लिए कृषि भवन प्रांगण में लोहिया पार्क बनाया गया।

मुलायम सिंह यादव जिले के कद्दावर नेता पूर्व कैबिनेट मंत्री स्व0 पारस नाथ यादव को अपने सगे भाई से अधिक मानते थे ।

इसका प्रमाण एक बार नही कई बार सामने आया था आखिर उदाहरण चार मार्च 2022 को विधानसभा चुनाव में मल्हनी विधानसभा क्षेत्र के कोलाहलगंज में अंतिम चुनावी जनसभा करके दी थी। उनकी जनसभा के बाद सपा के कद्दावर नेता रहे पारसनाथ यादव के पुत्र लकी यादव को जीत मिली। मुलायम का जलवा इस बात से भी माना जा रहा था कि पूर्वांचल में सपा ने विधानसभा में भाजपा से अधिक सीटें विस में हासिल की थीं। इसमें मुलायम फैक्‍टर भी माना जाता रहा है। 

तबीयत खराब होने के बावजूद पूरे प्रदेश में सिर्फ एक जगह चुनाव प्रचार करना चर्चा का विषय बना हुआ था।चुनावी सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने नौजवानों, किसानों एवं महिलाओं से प्रदेश की तरक्की के लिए समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी लकी यादव के लिए वोट और सपोर्ट दोनों मांगा था और लोगों में जोश भरा था।

 उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का सोमवार को निधन हो गया। वे 82 वर्ष के थे। मुलायम सिंह गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में वेंटिलेटर पर थे। पिछले रविवार से उनकी हालत नाजुक बनी हुई थी। मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद सपा कार्यकर्ताओं सहित जिले में शोक की लहर दौड़ गई। इसी क्रम में नगर के ताड़तला स्थित प्रधान कार्यालय पर श्री गणपति पूजा महासमिति ट्रस्ट द्वारा शोकसभा आयोजित की गई। इस दौरान पूर्व रक्षामंत्री व पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उनकी आत्मा की शांति के लिये दो मिनट का मौन रखा गया। मुख्य ट्रस्टी संजीव यादव ने कहा कि नेता जी को धरतीपुत्र की संज्ञा से सुशोभित किया गया और उनका सम्मान सभी पार्टियों द्वारा किया जाता रहा। नेता जी का जाना पूरे देश के लिये अपूरणीय क्षति है जिसकी भरपाई नहीं की जा सकती है। इस मौके पर अध्यक्ष संजय जाडवानी, अरशद कुरैशी, नवीन सिंह बसगोती, दीपक जावा, विशाल खत्री, पवन दूबे, प्रिंस सेठ, आशीष बोस, आदर्श श्रीवास्तव, रंजीत गुप्ता, पवन मोदनवाल, मुकेश साहू आदि मौजूद रहे। संचालन विशाल खत्री ने किया।

इसी क्रम में पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के निधन पर शेख नुरुल हसन मेमोरियल सोसायटी के मुख्य कार्यालय पर शोकसभा आयोजित की गई। इस मौके पर समाजसेवी एएम डेजी, सत्यम यादव, प्रमोद मौर्या, अरशद, टोनी खान, जावेद, गोरखनाथ, गोगा भाई, राकेश, पप्पू आदि ने 2 मिनट मौन रखकर शोक व्यक्त किया।
गौराबादशाहपुर संवाददाता के अनुसार, समाजवादी पार्टी के संस्थापक, पूर्व मुख्यमंत्री, पूर्व रक्षामंत्री नेताजी मुलायम सिंह यादव का सोमवार की सुबह निधन हो गया। जिसकी सूचना मिलते ही अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा में शोक की लहर दौड़ पड़ी। जिलाध्यक्ष लालजी यादव की अध्यक्षता में गौरव शिक्षा संस्थान धर्मापुर में शोकसभा हुई। श्री यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश की राजनीति में पिछड़ों को जीने की राह पर चलने की प्रेरणा देने वाले नेता जी का जीवन संघर्ष ही एक लम्बी दास्तां रहा। उनके रक्षा मंत्री कार्यकाल में भी देश के वीर सपूतों के लिये कई डिसीजन लिया गया। शोक सभा में डा. राम अवध यादव, डा. राजपति यादव, डा. शकुन्तला यादव, छोटे लाल यादव, प्रधानाचार्य शिव सहाय यादव, जनार्दन यादव, साहब लाल यादव, चन्द्र भूषण यादव, बृजभूषण यादव, महेन्द्र प्रताप यादव, वीरेन्द्र प्रताप यादव, राजेन्द्र यादव, विजय यादव, केशव प्रसाद यादव, रामशंकर यादव, जियाराम मास्टर साहब, मोती लाल यादव, रामप्रवेश यादव एडवोकेट, सूबेदार यादव एडवोकेट आदि मौजूद

Related

जौनपुर 5769226694606720980

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item